You are currently viewing गन्ने का रस इतना फायदा दे सकता है यह आपने सोचा भी नहीं होगा

गन्ने का रस इतना फायदा दे सकता है यह आपने सोचा भी नहीं होगा

Spread the love
गन्ने का रस

गन्ने का रस – गर्मियां आ गई हैं और अब गले और शरीर को ठंडक देने वाले गन्ने के जूस की बिक्री भी खूब तेजी से बढ़ रही हैं. हो भी क्यों न शरीर को गर्मी से बचाने के लिए गन्ने का जूस बेहद फायदेमंद (Benefits Of Sugarcane Juice) है. इसके साथ ही ये हमारी बॉडी को कई सारे रोगों से लड़ने की ताकत भी ( Sugarcane juice boost immunity) देता है. मिठास से भरपूर होने के बावजूद भी गन्ने में फैट बिल्कुल भी नहीं होता ऐसे में ये आपकी वेट लॉस डाइट का भी हिस्सा बन सकता है. गन्ने का जूस हमारी किडनी के साथ ही साथ हार्ट और पेट के लिए भी बेहद फायदेमंद है आइए जानते हैं कि गन्ने का जूस पीने से शरीर को कौन-कौन से लाभ ((Ganne Ke Juice Ke Fayde) मिलते हैं.

गन्ने का रस बहुत ही सेहतमंद और गुणकारी पेय है. इसमें कैल्शियम, पोटैशियम, आयरन, मैग्नेशियम और फॉस्फोरस जैसे आवश्यक पोषक तत्व पाए जाते हैं. इनसे हड्डि‍यां मजबूत बनती हैं और दांतों की समस्या भी कम होती है. गन्ने के रस के ये पोषक तत्व शरीर में खून के बहाव को भी सही रखते हैं.
वहीं इस रस में कैंसर व मधुमेह जैसी जानलेवा बीमारियों से लड़ने की ताकत भी होती है. आसानी से और सस्ते में उपलब्ध होने वाला गन्ने का रस सिर्फ स्वाद में ही लाजवब नहीं है बल्कि यह कई स्वास्थ्य समस्याओं का एक प्राकृतिक उपचार भी है। यही वजह है कि यह आपको डिहाइड्रेशन से बचाने में सहायक है, जोकि गर्मी की सबसे बड़ी समस्या है।

गन्ने का रस सेहत के लिए क्यों अच्छा होता है?

गन्ने की खेती इससे निकलने वाले मीठे रस के लिए की जाती है। गन्ने से ही चीनी व गुड़ का निर्माण किया जाता है। इन सबके अलावा, गन्ने का रस गर्मियों का सबसे खास पेय है। यह शरीर को तरोताजा करने में मदद कर सकता है। भारत में व्यापक रूप से गन्ने के रस का इस्तेमाल पीलिया, बदहजमी और कई मूत्र रोगों के उपचार में किया जाता है। आंतरिक स्वास्थ्य के अलावा, इसका प्रयोग त्वचा के लिए भी किया जाता है। नीचे जानिए गन्ने का रस किस प्रकार आपको शारीरिक लाभ पहुंचा सकता है।

हम सेहत के लिए गन्ने का रस पीने के फायदे बता रहे हैं, जो हमें स्वस्थ रखने में मदद करते हैं। नीचे बताई गई कुछ शारीरिक समस्याओं का घरेलू उपाय करने के लिए गन्ने के जूस का उपयोग किया जा सकता है। ये घरेलू उपाय सिर्फ समस्या के लक्षण को कम करने में सहायक हो सकते हैं, लेकिन उसका इलाज करने में सक्षम नहीं हैं।

गन्ने के जूस के दस फायदे | Ganne Ke Juice Ke Fayde

1. ऊर्जा का स्रोत

शरीर में लंबे समय तक ऊर्जा बनाए रखने के लिए और मसल्स में ताकत बनाए रखने के लिए कार्बोहाइड्रेट्स की जरूरत होती है। एक तरीके से इन्हें ऊर्जा के लिए ईंधन माना जा सकता है। गन्ने का रस कार्बोहाइड्रेट्स से समृद्ध होता है, जिस कारण इसका सेवन लंबे समय तक ऊर्जावान बनाए रखने में सहायक हो सकता है। एक शोध के अनुसार, व्यायाम के बाद शरीर को फिर से हाइड्रेट और तरोताजा करने में गन्ने का रस अन्य स्पोर्ट्स ड्रिंक की तुलना में अधिक प्रभावशाली हो सकता है

2. लिवर स्वास्थ्य (पीलिया) गन्ने का रस

गन्ने का रस लिवर से संबंधित पीलिया बीमारी के लिए फायदेमंद माना जाता है। यूनानी चिकित्सा के अनुसार, गन्ने के जूस के फायदे पीलिया से तुरंत आराम पाने में मदद कर सकते हैं। लिवर की कार्यप्रणाली में रूकावट आने पर पीलिया होता है। यह स्थिति तब बनती है, जब शरीर में बिलीरुबिन अधिक बढ़ जाता है। बिलीरुबिन एक पीला पिगमेंट होता है, जो लिवर में लाल रक्त कोशिकाओं के टूटने से बनता है। इस स्थिति पर काबू पाने के लिए रोजाना एक गिलास ताजा गन्ने का रस पीया जा सकता है.

3. कैंसर ( गन्ने का रस )

कैंसर से बचाने में भी गन्ने का जूस पीने के फायदे देखे गए हैं। इस रस में ट्रायसिन नामक एक फ्लेवोन पाया जाता है, जो एंटीऑक्सीडेंट गुणों से भरपूर होता है। साथ ही अपने एंटी-प्रोलाइफरेटिव गतिविधि के कारण गन्ने का जूस कई तरह की कैंसर की कोशिकाओं को पनपने से रोक सकता है (4)। बता दें कि कैंसर ऐसी बीमारी है, जिसका समय रहते डॉक्टरी इलाज करवाना जरूरी है। सिर्फ गन्ने के रस का सेवन करने से इस बीमारी को ठीक नहीं किया जा सकता।

4. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए गन्ने का रस

गन्ना खाने के फायदे रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में मिल सकते हैं। प्रतिरक्षा प्रणाली यानी इम्यून सिस्टम शरीर को कई तरह के संक्रमण और बीमारियों से बचाने में सहायक हो सकता है। इसकी पुष्टि के लिए जब गन्ने के गुण पर शोध किया गया, तो इसके हेपाटोप्रोटेक्टिव और एंटीऑक्सीडेंट गुण सामने आए। इसके परिणाम में सामने आया कि गन्ने का अर्क कई तरह के बैक्टीरियल व वायरल संक्रमण से बचाने के साथ-साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में भी मदद कर सकता है। वहीं, हम यह स्पष्ट कर दें कि ये शोध गन्ने के अर्क से जुड़े हैं, गन्ने का रस पीने के फायदे पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

5. बुखार में लाभदायक गन्ने का रस

बुखार तब आता है जब हमारा शरीर किसी बीमारी से लड़ने की कोशिश कर रहा हो। ज्यादातर बुखार किसी न किसी संक्रमण के कारण आते हैं। इस दौरान शरीर संक्रमण का कारण बनने वाले बैक्टीरिया या वायरस को खत्म करने की कोशिश करता है। ऐसे में गन्ने का जूस पीने के फायदे बुखार को कम करने में सहायक हो सकते हैं। फिलहाल, इसकी कार्यप्रणाली पर अभी और शोध की आवश्यकता है।

6. गले से जुड़ी समस्याएं

गन्ने के रस के फायदे यहां समाप्त नहीं होते, गन्ने के रस का सेवन गले के दर्द के लिए भी किया जा सकता है। जब कोई गले से जुड़ी समस्या जैसे टॉन्सिल्स से परेशान हो, तो उन्हें गन्ने के जूस का सेवन करने से फायदा मिल सकता है। जब टॉन्सिल्स (गले के पिछले हिस्से के टिश्यू) में सूजन आ जाती है, तो वो दर्द और तकलीफ का कारण बन सकते हैं। वहीं, गन्ने का जूस गला खराब, जुकाम और फ्लु जैसी समस्याओं को ठीक करने में भी मदद कर सकता है।

7. घाव भरने में लाभदायक गन्ने का रस

गन्ने का रस पीने के फायदे कई तरह के घावों को भरने में भी देखे गए हैं। एनसीबीआई की वेबसाइट पर प्रकाशित एक शोध में बताया गया है कि गन्ने के जूस का सेवन घाव भरने में सहायक हो सकता है। एक अन्य शोध में यह भी बताया गया है कि घाव को ठीक करने के लिए गन्ने से बनी शक्कर का भी इस्तेमाल किया जा सकता है। शक्कर में एंटीमाइक्रोबियल गुण पाए जाते हैं, जो घाव को ठीक करने में सहायक हो सकते हैं।

8. यूरिन से जुड़ी समस्याओं में फायदेमंद गन्ने का रस

कई बार यूरिन करते समय दर्द, जलन या असहजता महसूस हो सकती है। इस समस्या को डिसयूरिया कहा जाता है। यह मूत्रमार्ग में हुए किसी न किसी संक्रमण के कारण हो सकता है। पेशाब से जुड़ी इस समस्या से आराम पाने में गन्ने का रस पिया जा सकता है। बताया जाता है कि यह डिसयूरिया के साथ-साथ अनयूरिया (कम मात्रा में यूरिन आना) और यूरिन से संबंधित अन्य समस्याओं से आराम पाने में भी मदद कर सकता है .

9. नाखून के लिए गन्ने के फायदे

स्वस्थ और खूबसूरत नाखून कौन नहीं चाहता। इन्हें स्वस्थ बनाए रखने में कैल्शियम जरूरी मिनरल होता है। ऐसे में नाखून को मजबूत और सेहतमंद बनाए रखने के लिए गन्ने के जूस का सेवन किया जा सकता है। इसमें कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है, जिससे नाखूनों को मजबूत बनाए रखने में मदद मिल सकती है

10. मुंहासों के लिए लाभदायक

गन्ने का जूस अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड (AHA) का अच्छा स्रोत है, तो त्वचा के लिए खास तत्व माना जाता है। अल्फा हाइड्रॉक्सी एसिड में ग्लाइकोलिक एसिड, लैक्टिक एसिड, मैलिक एसिड, टार्टरिक एसिड और साइट्रिक एसिड मौजूद होते हैं, जिनका कॉस्मेटिक उत्पादों में बड़े पैमाने पर प्रयोग किया जाता है। मुंहासों से निजात दिलाने में ये एसिड अहम भूमिका निभा सकते हैं,

सामग्री :

  • गन्ने का रस (आवश्यकतानुसार)
  • मुल्तानी मिट्टी (आवश्यकतानुसार)

विधि :

  • मुल्तानी मिट्टी में गन्ने का रस डालकर पेस्ट बना लें।
  • अब अपने चेहरे और गर्दन पर यह पेस्ट लगाएं।
  • लगभग 20 मिनट तक चेहरे पर पेस्ट लगा रहने दें और बाद में ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
  • इस उपाय को हफ्ते में एक-दो बार इस्तेमाल कर सकते हैं।

11. स्किन एजिंग

त्वचा पर यूवी किरणों और फ्री रेडिकल्स के प्रभाव के कारण समय से पहले बुढ़ापे के लक्षण दिख सकते हैं। इन लक्षणों में झुर्रियां व पिगमेंटेशन आदि शामिल हैं। इनसे आराम पाने के लिए प्रभावी एंटीऑक्सीडेंट का उपयोग करने की सलाह दी जाती है। गन्ने के जूस में समृद्ध मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट पाए जाते हैं, जो फ्री रेडिकल्स का प्रभाव कम करने में सहायक हो सकते हैं। गन्ने के जूस का सेवन स्किन कैंसर से बचाने में भी सहायक हो सकता है.

सामग्री :

  • 2-3 चम्मच गन्ने का रस
  • चुटकी भर हल्दी

विधि :

  • गन्ने के रस में हल्दी को मिलाएं।
  • इसे पूरे चेहरे पर लगाएं और 10-12 मिनट के लिए छोड़ दें।
  • अब चेहरे को गुनगने पानी से धो लें।
  • यह उपाय सप्ताह में दो बार कर सकते हैं।

इम्यूनिटी होती है स्ट्रांग
गन्ने में  कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन, फास्फोरस और पोटेशियम जैसे पोषक तत्व होते हैं, ऐसे में ये हमारी इम्यूनिटी को भी मजबूत करता है.

वेट लॉस में करता है मदद
गन्ने में फाइबर की मात्रा भरपूर होती है, ऐसे में गन्ने का जूस पीने से वेट पर कंट्रोल करना संभव है.  इसके साथ ही ये जूस शरीर से बैड कोलेस्ट्रॉल को कम करता है.

शरीर को देता है ठंडक
गर्मियों के दिन में गन्ने का जूस पीने से शरीर को ठंडक पहुंचाती है. ऑफिस में बहुत ज्यादा काम के प्रेशर से आप थका महसूस कर रहे हैं तो इंस्टेंट एनर्जी के लिए भी गन्ने का ताजा जूस पी सकते हैं.

हीमोग्लोबिन की कमी होती है दूर
गन्ने में भरपूर आयरन होता है, ऐसे में गन्ने का जूस पीने से शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी दूर होती है.

हड्डियों होती हैं स्ट्रांग
गन्ने के जूस में कैल्शियम, मैग्नीशियम, आयरन, फास्फोरस और पोटेशियम भरपूर होता है जो हमारी की हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है.

पिंपल्स की समस्या के लिए
गन्ने में सुक्रोज की अच्छी मात्रा होती है जो शरीर के घाव को भरने में मदद करता है, ऐसे पर चेहरे पर उभरे पिंपल्स को भी ये ठीक करता है. इसके साथ चेहरे के सभी दाग- धब्बों को भी ये खत्म करता. गन्ने के जूस से खून भी साफ होता है, ऐसे में स्किन से जुड़ी परेशानियों से निजात मिलती है.  

गन्ने का जूस पीने का सही समय (Right time to drink Sugarcane Juice)
आपको ताजा निकला हुआ गन्ने के रस का सेवन करना चाहिए. गन्ने का जूस आप दोपहर से पहले पीएं और आप हफ्ते में कम से कम तीन बार इसका सेवन करें. इसके साथ ही गन्ने के जूस के फायदे प्राप्त करने के लिए आपको बैठकर इसका सेवन करना चाहिए.

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें.

क्या आप जानते है? माथे पर तिलक लगाने का वैज्ञानिक रहस्य

सन्तानोत्पति के लिए यह चमत्कारिक उपाय एक बार जरूर आजमाये

बीमारियों को घर में दाखिल नहीं होने देंगे ये 10 पौधे, हवा रखेंगे साफ

Diabetes डायबिटीज का इलाज, पुरानी शुगर खत्म करेगी ये दवा

खाली पेट लहसुन खाने से होते हैं ये फायदे, मर्दों के लिए वरदान है लहसुन

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply