You are currently viewing पेशाब का रंग बताता है शरीर की दिक्कत, ध्यान देने की जरूरत

पेशाब का रंग बताता है शरीर की दिक्कत, ध्यान देने की जरूरत

Spread the love
पेशाब का रंग

सेहत से जुडी कुछ  खास बातें आपकी यूरिन भी बता सकती है. इसके रंग से पता कर सकते हैं कि आपकी सेहत सही है या नहीं. बता दें, पेशाब का सामान्य रंग हल्के पीले से थोड़ा गहरा पीला हो सकता है, लेकिन इसका किसी अन्य रंग में होना खतरे की घंटी हो सकती है. इसलिए आपको यूरिन पर भी ध्यान देने की जरूरत होती है. आप यूरिन के रंग से अपने स्वास्थ्य का हाल जान सकते हैं. जानें, किस रंग का पेशाब आपकी सेहत के बारे में क्या बताता है.

हल्का पीला

आदर्श यूरीन का रंग स्पष्ट या पीले रंग का होता है। यह रंग बताता है कि आप बिल्कुल स्वस्थ हैं, और अपने स्‍वयं को अच्‍छी तरह से हाइड्रेटेड कर रहे हैं और आपका शरीर बहुत अच्छे से काम कर रहा है। 

पीला

शरीर को अच्छी तरह से हाइड्रेटेड नहीं करने पर यूरीन का रंग पीला हो जाता है। शरीर में अत्यधिक पसीना आने या कम हाइड्रेशन के कारण भी यूरीन का रंग पीला हो सकता है। इससे बचने के लिए आपको तरल पदार्थ अधिक से अधिक मात्रा में लेने की सलाह दी जाती है।

गहरा पीला

दवाओं के कारण भी यूरीन का रंग गहरे पीले रंग में बदल सकता है। यूरीन का रंग गहरा पीला होने पर जितनी जल्‍दी हो सके अपने डॉक्‍टर से मिलना चाहिए क्‍योंकि यह लीवर विकारों या हैपेटाइटिस में से किसी एक का लक्षण हो सकता है। 

दूधिया सफेद

यूरीन का दूधिया सफेद रंग यूरीन मार्ग, यूरीन मार्ग के संक्रमण या किडनी की पथरी में बैक्‍टीरिया की उपस्थिति में वृद्धि का संकेत हैं। अगर आप यूरीन दूधिया सफेद रंग में बदल गया है तो तुरंत अपने डॉक्‍टर के पास जाये।

लाल या गुलाबी

यूरीन का रंग लाल या गुलाबी रंग में तब बदलता है जब आपने लाल रंग से बने भोजन या चुकंदर और ब्लैकबेरी जैसे प्राकृतिक लाल रंग का उपभोग किया हो। अगर इस तरह के खाद्य पदार्थों का सेवन नहीं किया है, तो यह यूरीन से रक्त के आने का संकेत होता है। आपके यूननेरी सिस्टम, किडनी में पथरी या बहुत ज्यादा एक्‍सरसाइज के कारण लाल रक्त कोशिकाओं के टूटने का कारण भी हो सकता है।

नारंगी

यूरीन समस्‍या को कम करने के लिए इस्‍तेमाल की जा रही दवाओं के कारण भ यूरीन का रंग नारंगी हो सकता है। इसके अलावा गाजर या गाजर के रस को लेने से भी यूरीन का रंग बदल कर नारंगी हो जाता है।

नीला या हरा

यूरीन का रंग नीला या हरा खाने में पड़े कृत्रिम रंग के कारण होता है। इसमें चिंता करने की कोई बात नहीं होती, हालांकि चिंता बनी रहती है। दुर्लभ मामलों में आनुवांशिक बीमारी के कारण भी यूरीन का रंग नीला और हरा हो जाता है। 

अगर आप इस बारे में सुनिश्चित नहीं हो पा रहे हैं कि यूरीन के रंग में परिवर्तन का कारण क्‍या हैं तो आपको अपने डॉक्‍टर से मिलना चाहिए। इसके अलावा यूरीन में ब्‍लड का आना भी एक गंभीर संकेत है, इसके लिए आपको तुरंत चिकित्‍सक की सलाह लेनी चाहिए।

Please Like and Share Our Facebook Page
Herbal Medicines

Find US On Instagram
Herbal Medicines

Find US On Twitter
Herbal Medicines

पुरुषों के लिए वरदान है इलायची वाला दूध

बुढ़ापे तक रहना है जवान तो मेथीदाना खाना शुरू कर दीजिये

खाली पेट गर्म पानी के साथ काली मिर्च खाने से होगा ऐसा असर

कमर दर्द (Back Pain) का कारण और राहत के लिए घरेलू उपाय

This Post Has 20 Comments

Leave a Reply