You are currently viewing लेमन ग्रास – सर्दी खांसी से हैं परेशान तो लेमनग्रास का करें इस्तेमाल

लेमन ग्रास – सर्दी खांसी से हैं परेशान तो लेमनग्रास का करें इस्तेमाल

Spread the love

लेमन ग्रास हरी प्याज की तरह दिखने वाला एक पौधा है. जिससे नींबू की तरह खुशबू आती है. लेमन ग्रास को एक औषधी के रूप में इस्तेमाल किया जाता है. ये कई बीमारियों जैसे सिरदर्द, सर्दी, बुखार आदि की समस्या से बचाने में मदद कर सकता हैं.

लेमन ग्रास एक ऐसा ऐसा पौधा है. जो बिल्कुल हरी प्याज की तरह होता है. इसमें नींबू का फ्लेवर और खुशबू होती है. जो खाने के स्वाद को बढ़ाने का काम करता है. लेमन ग्रास को ज्यादातर चाय में डालकर इस्‍तेमाल किया जाता है. इसे और भी कई चीजों में एक औषधी की तरह इस्तेमाल किया जाता है.

लेकिन क्या आप जानते हैं. कि ये साधारण सा दिखने वाला पौधा आपको कई बीमारियों जैसे सिरदर्द, सर्दी, बुखार आदि से बचाने में मदद कर सकता हैं. लेमन ग्रास में जबरदस्त औषधीय गुण पाए जाते हैं. इसको एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल, एंटी-कैंसर, एंटीडिप्रेसेंट के गुणों से भरपूर माना जाता है. लेमन ग्रास को एक मैजिकल हर्ब कहे तो गलत नहीं होगा. क्योंकि इसमें  विटामिन ए, फोलिक एसिड, जिंक, कॉपर, आयरन, पोटैशियम, फास्फोररस, कैल्शि्यम और मैगनीज़ जैसे तत्व पाए जाते हैं. जो हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत जरूरी माने जाते हैं.

तो चलिए हम आपको बताते हैं लेमन ग्रास के फायदों के बारे में सेहतमंद रखने के ज्यादातर उपाय हमारे किचन में ही पाए जाते है। किचन से जुड़ी जो भी चीजे होती है उसकी अगर सही जानकारी हो तो हम कई बीमारियों से बच सकते हैं। लेमन ग्रास, का नाम तो सपने सुन होगा जो आमतौर पर हमारे गार्डन या किचन में जरूर होती है। लेमन ग्रास को साधारण भाषा में गवती चाय के नाम से भी जाना जाता है। लेमन ग्रास विटामिन ए, विटामिन सी, फोलेट एसिड, मैग्नीशियम, जिंक, कॉपर, आयरन और फास्फोरस जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों से भरपूर एक औषधि है।

बीमारियों व संक्रमण से बचाव

लेमन ग्रास विशेषकर दक्षिण-पूर्व एशिया में ही पाया जाता है। इसकी महक नींबू के समान आती है। इसका ज्यादातर उपयोग चाय में अदरक की तरह किया जाता है। लेमन ग्रास के एंटी बैक्टीरियल, एंटी इन्फ्लेमेटरी व एंटी फंगल गुण होते हैं, जो कई बीमारियों व संक्रमण से बचाने में सहायक होती है। गवती चाय की पत्तियों में काफी तादाद में सिट्रल पाया जाता है, जिससे इसकी पत्तियों की महक नींबू के समान आती है।

पेट जुड़ी समस्या का समाधान

चाय पाचन शक्ति बढ़ाने में भी मदद करती है। इसके सेवन से पेट के अल्सर और इससे जुड़ी अन्य समस्याएं भी नहीं होती है। कब्ज, अपच, गैस या एसिडिटी जैसी समस्याएं भी लेमन ग्रास के सेवन के कम हो जाती हैं।

पथरी से जुड़ी समस्या का निदान

लेमनग्रास को मसाले के रूप में या चाय के रूप में सेवन करने से किडनी को भी फायदा होता है, क्योंकि इसमें मूत्रवर्धक गुण पाया जाता है। एक सामान्य व्यक्ति को दिनभर में 10 से 12 बार टॉयलेट जरूर जाना चाहिए। लेमन ग्रास किडनी को स्वच्छ रखने में मदद करती है। इससे किडनी में स्टोन जैसी समस्या नहीं होती है।

कैंसर का खतरा कम करता है

लैमनग्रास में कैंसररोधी गुण पाए जाते हैं। यह कैंसर सेल्स की कॉलोनी को खत्म करने में अहम भूमिका निभाती है। रोज चाय में यदि लेमन ग्रास डालकर जी जाए तो कैंसर का खतरा बेहद कम हो जाता है।

नींद नहीं आने की समस्या का समाधान

लोग वजन घटाने के लिए कई तरह के प्रयोग करते हैं। लेमनग्रास की चाय का नियमित सेवन शुरू कर दें तो बहुत जल्द ही इसका सकारात्मक परिणाम देखने को मिल जाता है। लेमन ग्रास शरीर से अनावश्यक चर्बी को जल्द ही घटा देती है और शरीर के इम्यून सिस्टम को भी मजबूत करती है। यह शरीर को बहुत तेजी से डिटॉक्सिफाई करती है। इसके अलावा लेमनग्रास गठिया, नींद नहीं आने की समस्या, अवसाद आदि समस्या को भी दूर करती है। साथ ही इसके सेवन से शरीर का नर्वस सिस्टम भी बेहतर होता है।

स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है लेमन ग्रास का इस्तेमालः

1. सर्दी-खांसीः

लेमनग्रास को सर्दी-खांसी और कफ के लिए इस्तेमाल किया जाता है. लेमन ग्रास की चाय का सेवन करने से सर्दी-खांसी में राहत मिल सकती है. क्योंकि इसमें विटामिन सी अधिक मात्रा में पाया जाता है. जो हेल्थ के लिए फायदेमंद हो सकता है.

2. मेमोरीः

लेनमग्रास में दिमाग को तेज करने वाले तत्व पाए जाते हैं. अपनी मेमोरी को तेज करने के लिए डाइट में लेमनग्रास का इस्तेमाल करें. इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेंटरी, के गुण स्वास्थ्य के लिए लाभदायक माने जाते हैं.

3. कब्जः

लेमनग्रास की चाय को पेट से जुड़ी समस्याओं के लिए फायदेमंद माना जाता है. इसमें एंटी-ऑक्सीडेंट के गुण मौजूद होने से ये पेट संबंधी बीमारियों जैस- पेट दर्द, कब्ज, ऐंठन, और दस्त से बचाने का काम कर सकता है.
 

4. एनीमियाः

एनीमिया की कमी को दूर करने के लिए लेमनग्रास की चाय का इस्तेमाल करना काफी फायदेमंद माना जाता है. क्योंकि इसमें आयरन और कैल्शियम के गुण पाए जाते हैं, इसका इसतेमाल हम ताजा और सूखा दोनों ही रूपों में कर सकते हैं.

Please Like and Share Our Facebook Page

Herbal Medicines

Find US On Instagram

Herbal Medicines

Find US On Twitter

Herbal Medicines

चश्मा हटाने का उपाय, चश्मे को कहना है बाय तो अपनाएं ये टिप्‍स

प्याज के रस से दोबारा बाल उगाने का रामबाण उपाय

एक्जिमा (Eczema), दाद-खाज, खुजली, सभी चर्म रोगों को खत्म करें

शरीर की गंदगी निकालने का उपाय | BODY DETOX

पेट में गैस बनने के कारण और घरेलू उपाय | STOMACH GAS

करी पत्ता के फायदे, ये पत्तियां बुढ़ापे तक बालों को काला रखती हैं

This Post Has One Comment

  1. Khushbu

    Nice

Leave a Reply