You are currently viewing सर्दी-खांसी को दूर रखने के साथ ही बीपी कंट्रोल करती है यह एक चीज

सर्दी-खांसी को दूर रखने के साथ ही बीपी कंट्रोल करती है यह एक चीज

Spread the love
सर्दी-खांसी

सर्दी-खांसी को दूर – ठंड के मौसम में आने वाली मूली के पराठों से लेकर सब्जी तक बनाई जाती है। इसकी टेस्टी डिशेज हर उम्र के लोग पसंद करते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सर्दियों के मौसम में आने वाली मूली गुणों से भी भरपूर है? यह सर्दी खांसी दूर करने से लेकर बीपी को कंट्रोल करने और यहां तक कि स्किन को हेल्दी बनाने में भी मदद करती है। सर्दी-खांसी से अगर बचना है तो अपनी डायट में मूली को शामिल जरूर करें। चाहे तो इसे सलाद में डालकर खाएं या फिर यूं ही खाएं। इस सब्जी में डी-कंजेस्टेंट कम्पाउंड होते हैं जो नेजल और थ्रोट के पैसेज को क्लीन रखते हैं। इससे बैक्टीरिया पनप नहीं पाते और खांसी-जुकाम दूर रहता है।

मोटापा कम करने से लेकर कैंसर से लड़ने तक, जानिए मूली खाने के अमेजिंग फायदे

मौसमी सर्दी, जुकाम और खांसी को भी मूली से काफी हद तक ठीक किया जा सकता है. इसमें एंटी-कांजेस्टिव गुण होते हैं जो कफ खत्म करने में मददगार होते हैं. वहीं जो लोग सर्दी-खांसी से परेशान रहते हैं उन्हें नियमित रूप से मूली का सेवन करना चाहिए.

क्या आपको पता है को कच्चा खाने से कई तरह के लाभ होते हैं. मूली का सही समय पर सेवन करने से कैंसर, पाइल्स, पायरिया और मोटापा को कंट्रोल किया जा सकता है. यह सर्दी-जुकाम को कम करने में किसी नुस्खे से कम नहीं है. जानिए मूली खाने के बेहतरीन फायदे.

कैंसर लड़ने में शरीर को देगी ताकत
फॉलिक एसिड, विटामिन C और एंथोकाइनिन से भरपूर मूली शरीर को कैंसर से लड़ने में मदद करते हैं. मुंह, पेट, आंत और किडनी के कैंसर से लड़ने में यह कारगर मानी जाती है.

ब्लड प्रेशर भी रहेगा कंट्रोल
मूली खाने से ब्लड प्रेशर को कंट्रोल किया जा सकता है. इसमें भरपूर मात्रा में पोटैशियम होता है. मूली में एक खास तरह का एंटी हाइपरटेंसिव तत्व भी पाया जाता है जो हाई ब्लड प्रेश को कंट्रोल करने में मददगार साबित होता है.

आंखों की रोशनी भी बढ़ा सकती है
अगर आंखों की रोशनी कमजोर है तो आंवला, संतरा, पालक के साथ ही आपको मूली का सेवन करना चाहिए. यह विटामिन ए, बी और सी से भरपूर होता है जो आंखों की रोशनी बढ़ाने में सहायक माने जाते हैं. अगर रोजाना एक मूली का सेवन किया जाए तो इससे आंखों को गजब का फायदा हो सकता है.

पायरिया के इलाज में मददगार 
कई लोगों के मसूढ़ों से खून आता है, इसे पायरिया कहा जाता है. इस समस्या से मूली काफी हद तक आराम पहुंचा सकती है. मूली के रस से दिन में 2-3 बार कुल्ले करने और इसका रस पीने से फायदा हो सकता है. मूली के रस से कुल्ला करना, मसूड़ों-दांतों पर मलना और पीना दांतों के लिये बहुत लाभकारी है. मूली को चबा-चबा कर खाने से दांतों और मसूड़ों की बीमारियां दूर होती हैं.

सर्दी-जुकाम कर देगी छूमंतर
मौसमी सर्दी, जुकाम और खांसी को भी मूली से काफी हद तक ठीक किया जा सकता है. इसमें एंटी-कांजेस्टिव गुण होते हैं जो कफ खत्म करने में मददगार होते हैं. वहीं जो लोग सर्दी-खांसी से परेशान रहते हैं उन्हें नियमित रूप से मूली का सेवन करना चाहिए.

डाइबिटीज में राहत 
डाइबेटिक पेशंट को मूली को अपने आहार में जरूर शामिल करना चाहिए. इसमें मौजूद फाइबर इंसुलिन को कंट्रोल करने का काम करता है. इससे शरीर में शुगर लेवल कंट्रोल रहता है.

मोटापा कम कर सकती है मूली
थकान मिटाने और नींद लाने में मूली कारगर नुस्खे की तरह काम करती है. मोटापे से छुटकारा दिलाने में भी मूली बेहतरीन हो सकती है. करना बस इतना है कि इसके रस में नींबू और नमक मिलाकर रोजाना पीएं. दरअसल, मूली खाने से आपकी भूख शांत होती है. भूख कम लगेगी तो आप कम खाएंगे और फिट रह सकते हैं.

क्या आप जानते है? माथे पर तिलक लगाने का वैज्ञानिक रहस्य

सन्तानोत्पति के लिए यह चमत्कारिक उपाय एक बार जरूर आजमाये

बीमारियों को घर में दाखिल नहीं होने देंगे ये 10 पौधे, हवा रखेंगे साफ

Diabetes डायबिटीज का इलाज, पुरानी शुगर खत्म करेगी ये दवा

खाली पेट लहसुन खाने से होते हैं ये फायदे, मर्दों के लिए वरदान है लहसुन

गन्ने का रस इतना फायदा दे सकता है यह आपने सोचा भी नहीं होगा

Please Like and Share Our Facebook Page
Herbal Medicines

Find US On Instagram
Herbal Medicines

Find US On Twitter
Herbal Medicines

This Post Has 2 Comments

Leave a Reply