You are currently viewing आड़ू के आश्चर्यजनक फायदे के बारे में नहीं सुना होगा अपने !!

आड़ू के आश्चर्यजनक फायदे के बारे में नहीं सुना होगा अपने !!

Spread the love

1. वजन घटाने में कारगर

फाइबर युक्त आहार वजन घटाने में मदद कर सकते हैं और आड़ू फाइबर का अच्छा स्राेत है। आड़ू खाने के फायदे यह है कि इसमें कम कैलोरी होती है। आड़ू खाने का फायदा ये भी है कि ये चयापचय को बढ़ाने में मदद करते हैं। बेहतर चयापचय भी कैलोरी को कम करने में मदद करता है और इस प्रकार आड़ू फल वजन घटाने में सहायता करता है।

2. कैंसर की रोकथाम में फायदेमंद

पीच में पाए जाने वाले मुख्य तत्व कैंसर कोशिकाओं के निर्माण और उन्हें बढ़ने से रोकते हैं। आड़ू में कैरोटीनॉयड और कैफिक एसिड पाए जाते हैं, जो एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करते हैं। ये दोनों कैंसर की रोकथाम में कारगर होते हैं। आड़ू में पॉलीफेनॉल्स भी पाए जाते हैं, जो ट्यूमर को कैंसर में परिवर्तित नहीं होने देते। यह भी आड़ू के फायदे में से एक है। साथ ही आड़ू स्वस्थ कोशिकाओं को सुरक्षा प्रदान कर कैंसर की कोशिकाओं को नष्ट कर सकता है। एक अमेरिकी अध्ययन में कहा गया है कि आड़ू फल में पाए जाने वाले पॉलीफेनॉल्स स्तन कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोक सकते हैं। साथ ही कोलन कैंसर में भी आड़ू के फायदे देखने को मिल सकते हैं।

3. स्वस्थ आंखों के लिए आड़ू

आड़ू में विटामिन-ए, सी और कैरोटीनॉयड्स पाए जाते हैं, जो ग्लूकोमा को दूर कर सकते हैं। साथ ही ये स्वस्थ आंखों के लिए आवश्यक घटक हैं। प्रतिदिन एक आड़ू खाने से ग्लूकोमा के साथ ही कई बीमारियों से छुटकारा मिल सकता है।

4. पाचन तंत्र को करे मजबूत

रोजाना एक ताजा आड़ू खाने से शरीर को पर्याप्त मात्रा में फाइबर मिल जाता है। फाइबर पाचन तंत्र को स्वस्थ बनाने में योगदान देता है। साथ ही कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में मदद कर सकता है। पाचन के लिए अच्छा होने के अलावा मूत्रवर्धक के रूप में भी आड़ू के फायदे देखे जा सकते हैं। यह लिवर और मूत्राशय को भी साफ करने में मदद करता है ।

5. कोलेस्ट्रॉल को करे नियंत्रित

अगर आप उच्च रक्त कोलेस्ट्रॉल से पीड़ित हैं, तो प्रतिदिन एक आड़ू फल का सेवन कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित कर सकता है। आड़ू में पाया जाने वाला फाइबर शरीर में मौजूद कोलेस्ट्रॉल को कम करता है साथ ही इससे होने वाली बीमारियों से सुरक्षा भी प्रदान करता है।

6. बेहतर करे मस्तिष्क

ताजा पीच के गूदे और छिलके का सेवन साइटटॉक्सिसिटी से छुटकारा दिलाता है, जो कि मस्तिष्क की कोशिकाओं के लिए हानिकारक होता है। साथ ही इसके सेवन से मस्तिष्क के ऑक्सिडेटिव स्ट्रेस को भी दूर करने में मदद मिलती है। साथ ही आड़ू फल में पाया जाने वाला फोलेट दिमाग को स्वस्थ रखने में सहायक होता है।

7. दिल को स्वस्थ बनाए

आड़ू में पोटैशियम, फ्लोराइड और आयरन जैसे कई महत्वपूर्ण खनिज होते हैं। पोटैशियम सेल और शरीर के तरल पदार्थों का एक महत्वपूर्ण घटक है, जो ह्रदय गति और रक्तचाप को नियंत्रित करने में मदद करता है। आड़ू फल का प्रतिदिन सेवन करने से कोरोनरी ह्रदय रोग और स्ट्रोक का जोखिम काफी कम हो सकता है। साथ ही ह्रदय को सुरक्षा भी प्रदान करता है। आड़ू ह्रदय को नुकसान पहुंचाने वाले उच्च रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकता है।

8. तनाव दूर करे

आड़ू में मैग्नीशियम की पर्याप्त मात्रा होती है। यह तंत्रिका तंत्र को शांत रख तनाव को कम करने में मदद करता है। वैज्ञानिक शोध के अनुसार, मैग्नीशियम की कमी केंद्रीय तंत्रिका तंत्र के कामकाज को प्रभावित कर सकती है। इस प्रकार आड़ू के प्रयोग से मांसपेशियों और तंत्रिका तंत्र के द्वारा दिए जाने वाले संकेतों की गतिविधि बढ़ जाती है और वो सही तरीके से अपना काम करते हैं।

9. बुढ़ापे को रखे दूर

आड़ू के अंदर जिंक की मात्रा भी पाई जाती है, जिसमें एंटी-एजिंग यानी बुढ़ापे को रोकने के गुण होते हैं। वैज्ञानिक शोध के अनुसार, आड़ू जैसे जिंक युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन एंटीबॉडी के उत्पादन को बढ़ावा देता है और मुक्त कणों से कोशिकाओं को नष्ट होने से बचाता है। साथ ही यह पुरुषों के शरीर में टेस्टोस्टेरॉन के स्तर को बढ़ाकर प्रजनन क्षमता को बेहतर कर सकता है।

10. एंटीऑक्सीडेंट का स्रोत

पीच में जरूरी पोषक तत्व और एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो गर्भावस्था के दौरान जरूरी होते हैं। एंटीऑक्सीडेंट से प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत करने में मदद मिलती है। साथ ही त्वचा संबंधी समस्याएं जैसे कि दाग और धब्बे तेजी से ठीक होते हैं।

Leave a Reply