You are currently viewing एसिडिटी के लिए आयुर्वेदिक उपचार !!

एसिडिटी के लिए आयुर्वेदिक उपचार !!

Spread the love

चिरयता – चिरयता के प्रयोग से पेट की जलन और दस्त जैसी पेट की गड़बड़ी को ठीक करने में सहायता मिलती है।

लहसुन – पेट की सभी बीमारियों के उपचार के लिए लहसुन रामबाण का काम करता है।

मेथी – मेथी के पत्ते पेट की जलन के उपचार में सहायक सिद्ध होते हैं।

तुलसी की पत्तियां – तुलसी के पत्तों के सुखदायक और बेहतर गुण से आप एसिडिटी, गैस और उलटी से तत्काल राहत पा सकते है।

इलायची – सीने की जलन को ठीक करने के लिए इलायची का प्रयोग सहायक सिद्ध होता है।

अश्वगंधा- भूख की समस्या और पेट की जलन सम्बंधित रोगों के उपचार में अश्वगंधा सहायक सिद्ध होती है।

Created with GIMP

Leave a Reply