You are currently viewing बबूल गोंद करता है कई बीमारियों का खात्मा, इसके चमत्कारिक फायदे जानकर उड़ जाएंगे होश

बबूल गोंद करता है कई बीमारियों का खात्मा, इसके चमत्कारिक फायदे जानकर उड़ जाएंगे होश

Spread the love

आज हम आपको इस लेख के माध्यम से एक ऐसे चमत्कारिक पौधे के विषय में जानकारी देने वाले हैं जिसके बारे में आपने कभी सुना और पढ़ा भी होगा जिस पौधे के बारे में हम जानकारी देने वाले हैं उस पौधे का नाम “बबूल” का पौधा है जिस पौधे का हर भाग दवा है. इस पौधे का एक बहुत ही महत्वपूर्ण भाग है जिसको गोंद कहा जाता है आयुर्वेद में बबूल के गोंद का बहुत फायदा बताया गया है. अगर आप बबूल के गोंद का प्रयोग करेंगे तो इससे आपकी छाती मुलायम होती है यह अमावश्य को शक्तिशाली बनाता है और आंतो को भी मजबूत करता है. बबूल के गोंद के प्रयोग से सीने के दर्द में राहत प्राप्त होती है और गले की आवाज साफ होती है।

वैसे बबूल का गोंद गर्मियों के मौसम में इकट्ठा किया जाता है. बबूल के पौधे के तने में कहीं पर भी काटने से जो सफेद रंग का पदार्थ उसमें से निकलता है उसी को गोंद कहा जाता है यह गोंद बाजार में भी उपलब्ध होता है. आप इसको किसी भी दुकान से खरीद सकते हैं. आपको यह आसानी से मिल जाएगा गोंद का सेवन 5 से 10 ग्राम तक किया जाता है अगर आप इसका सेवन करेंगे तो इससे आपको चमत्कारिक लाभ प्राप्त होंगे. आज हम आपको बबूल के गोंद से मिलने वाले फायदों के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं।

1. जब आपके गले में किसी प्रकार का संक्रमण होता है तो यह आपके लिए बहुत असुविधाजनक होता है। ऐसी स्थिति में आपको पहले अपने डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। डॉक्टर आपको कोई सीरप या दवा देगा। आप बबूल गोंद का भी उपयोग कर सकते हैं, क्योंकि अधिकांश सीरप में बबूल गोंद मुख्य घटक के रूप में उपयोग किया जाता है। यह आपको गले में जलन और दर्द से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। आप इसका सेवन करने से गले के संक्रमण के दौरान राहत प्राप्त कर सकते हैं।

2. पेट के स्वास्थ के लिए बबूल गोंद बहुत ही फायदेमंद होती है क्योंकि इसमें फाइबर (Fiber) की अच्‍छी मात्रा होती है। फाइबर की अच्‍छी मात्रा होने के कारण यह पेट में अतिरिक्त गैस के उत्पादन और पेट की सूज़न को कम करता है। पेट की गैस और सूज़न के कारण दर्द का अनुभव होता है जो कि बहुत ही कष्टदायक होता है। अध्यन बताते हैं कि बबूल गोंद का सेवन करने से यह आंतों को स्वस्थ रखता है। इसलिए बबूल गोंद का सेवन करने से यह पेट की समस्याओं को दूर करने में मदद करता है।

3. ऑक्सीडेटिव तनाव उस स्थिति में होता है जब आपके शरीर में मुक्त कणों (free radicals) की संख्या बढ़ जाती है। एक अध्यन से पता चलता है कि बबूल गर्म का सेवन करने से यह हानिकारक जीवाणुओं से हमारे शरीर की रक्षा करता है, क्योंकि इनमें एंटीऑक्सीडेंट अच्‍छी मात्रा में पाए जाते हैं। मुक्त कण आपके तनाव को बढ़ाने के साथ-साथ शरीर की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इनसे बचने के लिए स्वस्थ भोजन और बबूल गोंद का नियमित सेवन करें। यह आपके तनाव को कम करने में मदद करता है।

4. दांतों की समस्‍या का प्रमुख कारण मुंह में होने वाले बैक्टेरिया होते हैं। जिनके कारण दांतों की गंदगी का स्तर आपके मुंह में बढ़ सकता है। आपके दांत आपकी सुंदरता का अहम हिस्सा होते हैं, यदि आप इनका ख्याल नहीं रखते हैं तो आपको भविष्य में बहुत परेशानियां हो सकती हैं। आप अपने दांतों को स्वस्थ रखने के लिए बबूल गोंद का इस्तेमाल कर सकते हैं। अध्ययनों ने यह साबित कर दिया है। वास्तव में बबूल गोंद में जीवाणुरोधी गुण होते हैं जो आपके मुंह के हानिकारक जीवाणु को नष्ट करने में मदद करते हैं। इन जीवाणुओं के कारण आपके दांतों और मसूड़ों से खून निकलने लगता है। यदि आप सामान्य रूप से बबूल गोंद का सेवन 7 दिनों तक करते हैं तो यह आपके मुंह की गंदगी को हटा सकता है।

5. मोटापा बहुत सी बीमारियों का कारण होता है, इसलिए आप भी नहीं चाहेगें की आप अधिक मोटे हों। यदि आप मोटापा कम करना चाहते हैं या मोटा नहीं होना चाहते हैं तो बबूल गोंद का सेवन करें। यदि आप बबूल गोंद की थोड़ी मात्रा का सेवन प्रतिदिन करते हैं तो इसमे मौजूद फाइबर आपके वजन को कम करने में मदद करते हैं। बबूल गोंद का नियमित सेवन करने से आपको अतिरिक्त भूख का एहसास नहीं होगा जो कि आपके मोटापे का मुख्य कारण होता है। आप यदि मोटापे और इससे संबंधित अन्य समस्याओं से बचना चाहते हैं तो बबूल गोंद का नियमित सेवन कर सकते हैं।

6. आप शायद जानते हों कि डायरिया एस ऑरियस जीवाणु के कारण होता है। दूषित पानी पीना या फिर दूषित और बैक्टीरिया युक्त भोजन करना दस्त होने का प्रमुख कारण है। यदि आप इस तरह की समस्या से ग्रसित हैं तो बबूल गोंद आपकी सहायता कर सकती है। बबूल गोंद आपके दस्त को कम करने में मदद करती है। इसका मतलब यह नहीं है कि आपको दस्त (Diarrhea) का इलाज नहीं कराना है। आप अपना उपचार जरूर कराएं और दी गई दवाओं के साथ ही बबूल गोंद का भी सेवन करें। यह आपके उपचार को और अधिक प्रभावी बनाने में मदद करता है।

7. कुछ अध्यन बताते हैं कि बबूल गोंद का उपयोग महिलाओं के स्वास्थ पर सकारात्मक (Healthy) प्रभाव डालता है। यदि महिलाओं द्वारा 6 सप्ताह तक नियमित रूप से 3 ग्राम बबूल गोंद का सेवन प्रतिदिन किया जाता है तो यह महिलाओं के बांझपन (Female infertility) की समस्या को दूर कर सकता है। बबूल गोंद का नियमित सेवन करने से यह महिलाओं के बढ़ते वजन को भी नियंत्रित कर सकता है। यह शरीर के वसा (Body fat) को 2 प्रतिशत तक कम कर सकता है। जो यह साबित करता है कि यह महिलाओं के वज़न को कम करने में सहायक है।

8. पुरुषों के यौन स्वास्थ(Sexual health) के लिए बबूल की गोंद बहुत ही फायदेमंद होती है। पौरूष स्वास्थ को बढ़ाने के लिए बबूल गोंद को समान्य रूप से प्रतिदिन 5 से 10 ग्राम की मात्रा का सेवन करना चाहिए। यदि इसके सेवन से किसी प्रकार की हानि होती है तो इस प्रभाव को कम करने के लिए पलाश की गोंद का इस्तेमाल किया जा सकता है।

9. जो लोग मधुमेह से पीड़ित हैं उनके लिए बबूल गोंद बहुत ही फायदेमंद होती है। मधुमेह रोगी को हर समय भूख लगती है, उनकी भूख संतुष्ट नहीं हो पाती है। उनकी इस समस्‍या का समाधान बबूल गोंद से किया जा सक‍ता है। बबूल गोंद में उपस्थित फाइबर भूख को संतुष्ट करने में मदद करते हैं, और आपके खाने की आदत को नियंत्रित करते हैं। जिसके कारण आपके शरीर में रक्त शर्करा (Blood sugar) को नियंत्रित किया जा सकता है। रक्त शर्करा की अधिक मात्रा मधुमेह का प्रमुख कारण होता है। आप बबूल गोंद को अपने खाद्य पदार्थों में मिलाकर सेवन कर सकते हैं।

10. आप बबूल गोंद को सामान्य गोंद न समझे, यह शरीर के कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करती है और मुक्त कणों से छुटकारा दिलाती है जो कि कैंसर का कारण बनते हैं। इसमें उपस्थित एंटीऑक्सीडेंट (Antioxidant) आपके द्वारा खाये जाने वाले खाद्य पदार्थों द्वारा आने वाले हानिकारक जीवाणुओं को नष्ट करके कैंसर की संभावना को कम करते हैं। बबूल गोंद का उपयोग कुछ दवा उद्योग और खाद्य पदार्थों में भी उपयोग किया जाता है। इसमे उपस्तिथि फाइबर आपके शरीर में उपस्थित खराब कोलेस्‍ट्रोल को दूर करने और अच्छे कोलेस्‍ट्रॉल के स्तर  को बढ़ाने में मदद करते हैं जो कैंसर की रोकथाम को बढ़ावा देते हैं।

Please Like and Share Our Facebook Page
Herbal Medicines

Find US On Instagram
Herbal Medicines

Find US On Twitter
Herbal Medicines