You are currently viewing बादाम तेल और जैतून के तेल के फायदे

बादाम तेल और जैतून के तेल के फायदे

Spread the love

Almond Oil Benefits बादाम का तेल कच्चे बादामों से ही निकाला जाता है। बादाम के तेल में पर्याप्त मात्रा में मोनोअनसैचुरेटेड फैटी एसिड के साथ ही विटामिन ई एवं पोटैशियम, प्रोटीन और जिंक भारी मात्रा में पाए जाते हैं। अन्य तेलों की अपेक्षा हल्का होने के कारण बादाम के तेल का इस्तेमाल रसोई में भी किया जाता है। इस आर्टिकल में हम आपको बादाम तेल के फायदे एवं बादाम तेल के नुकसान के विषय में बताएंगे।

Almond Oil बादाम का तेल मीठा और कड़वा दो प्रकार का होता है। बादाम का कड़वा तेल बादाम को दबाकर निकाला जाता है। इसमें एमिगाडलिन होता है जो प्रसंस्करण के बाद हानिकारक हाइड्रोसायनिक एसिड में बदल जाता है। इसमें औषधीय तत्व मौजूद होने के बावजूद भी कड़वा तेल को खाया नहीं जाता है। इसका इस्तेमाल किसी विशेष जरूरत के लिए ही किया जाता है। जबकि बादाम का मीठा तेल खाने के योग्य होता है। इस तेल का लाभ बालों एवं चेहरे को बहुतायत में मिलता है। इसके अलावा भोजन बनाने में भी किया जाता है।

बादाम तेल के फायदे –

बादाम तेल के फायदे सोरायसिस और एक्जिमा के इलाज में – बादाम का तेल त्वचा संबंधी बीमारियों एवं संक्रमण जैसे मुंहासे, सोरायसिस और एक्जिमा के इलाज में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह त्वचा की जलन एवं खुजलाहट को कम करके त्वचा को आराम देता है। यह तेल एक विलेपन के रूप में काम करता है और यह त्वचा को ठंडक प्रदान करता है। इसमें मॉश्चराइजिंग गुण भी पाया जाता है जो त्वचा को नमी प्रदान कर एक्जिमा और सोरायसिस जैसी बीमारियों को दूर करने में सहायक होता है।

बालों की रूसी दूर करने में बादाम तेल के फायदे – यदि आपके सिर में रूसी इतनी ज्यादा हो गई हो कि आपके कपड़े पर गिर जा रही हो तो अपने सिर में बादाम के तेल से मसाज करें। बादाम का तेल मृत कोशिकाओं को नष्ट कर डैंड्रफ को दूर करने में उपयोगी है। यह बालों को पोषण प्रदान करता है और बालों से संबंधित सभी समस्याओं को दूर करता है। बादाम का तेल सिर को ठंडक प्रदान करता है और बालों में जमी मृत कोशिकाओं को बाहर निकालता है। एक चम्मच आंवला पावडर में बादाम का तेल मिलाकर धीरे-धीरे बालों में लगाएं और आधे घंटे के लिए छोड़ दें। अब बालों में शैंपू कर लें। बाल सूखने के बाद आपके बालों से रूसी गायब मिलेगी।

ओलिव ऑयल या जैतून का तेल आजकल काफी इस्तेमाल किया जा रहा है। अगर आप खाना बनाने के शौकीन हैं, तो आपको ओलिव ऑयल के बारे में पता ही होगा। ओलिव ऑयल न सिर्फ सेहत के लिए फायदेमंद है, बल्कि यह कई औषधीय गुणों से भरपूर है, इसलिए वर्षों से इसका उपयोग किया जा रहा है। एक वक्त था जब जैतून का तेल सिर्फ खाना बनाने के काम आता था, लेकिन इसके फायदे पता चलने के बाद लोग इसे स्किन केयर, बालों के लिए और अन्य कई चीजों के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं। इस लेख में हम जैतून के तेल के फायदे और उसके उपयोग के बारे में जानेंगे।

जैतून के तेल के फायदे –

वजन कम करने के लिए जैतून का तेल- आजकल की जीवनशैली में कोई भी खान-पान पर ध्यान नहीं देता। वक्त की कमी के कारण लोग बाहर का तला-भूना खा लेते हैं और कभी-कभी काम में इतने व्यस्त होते हैं कि खाना खाते तक नहीं हैं। परिणामस्वरूप वजन बढ़ने लगता है। हालांकि, कुछ लोग डाइटिंग करने की कोशिश करते हैं, लेकिन ऐसा ज्यादा दिन तक नहीं चल पाता। ऐसे में कैसा हो कि अगर आप अपने पसंद की चीज भी खाएं और वजन भी न बढ़े। इसमें चौंकने की बात नहीं है, ऐसा ऑलिव ऑयल की मदद से हो सकता है। आप अपने पसंदीदा खाने में थोड़ा-सा ऑलिव ऑयल मिलाएं, जिससे खाने का स्वाद तो बढ़ेगा ही साथ ही वजन भी कम होगा। एक शोध के अनुसार एक मेडिटेरेनियन डाइट में ऑलिव ऑयल का इस्तेमाल किया गया था। इस डाइट को लेने वाले लोगों में वजन कम होते हुए देखा गया। साथ ही उनके खून में एंटीऑक्सीडेंट की बढ़ोतरी भी पाई गई। इसलिए, अगर आपको बढ़ते वजन की परेशानी सता रही है, तो आप व्यायाम के साथ-साथ ऑलिव ऑयल को भी अपने डाइट में शामिल करें।

कील-मुहांसों के लिए जैतून का तेल- पिंपल कभी भी हो सकते हैं और आपकी खूबसूरती पर दाग लगा सकते हैं। कई बार लोग पिंपल के लिए तरह-तरह की क्रीम, लोशन व फेसवॉश प्रयोग करते हैं, लेकिन इनके साइड-इफेक्ट हो सकते हैं। ऐसे में अगर आप जैतून के तेल का उपयोग करेंगे, तो आप पिंपल से कुछ हद तक अपने चेहरे का बचाव कर सकते हैं। जैतून के तेल में विटामिन-ई होता है, जो त्वचा को स्वस्थ बनाता है। यह एंटीइंफ्लेमेटरी भी होता है, जिस वजह से कील-मुहांसों की परेशानी से त्वचा का बचाव हो सकता है ।

Leave a Reply