You are currently viewing दांतो की झनझनाहट को कम करने के लिए घरेलू उपाय !!

दांतो की झनझनाहट को कम करने के लिए घरेलू उपाय !!

Spread the love

1. नमक पानी

नमक में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो मुंह में बैक्टीरिया को खत्म करने में मदद करते है। इसे प्रयोग करने के लिए गर्म पानी में नमक मिलाकर इससे दिन में दो बार कुल्ला करें। इससे दांतों की झनझनाहट से राहत मिलेगी और साथ ही में मुंह का PH भी बैलेंस में रहेगा।

2. लौंग या लौंग का तेल

लौंग को चबाने से दांतों का दर्द कम करने के साथ मुंह में इन्फेक्शन कम करने में भी मदद करता है। दांतों की झनझनाहट कम करने के लिए लौंग के तेल को दांतो पर लगाएं।

3. कच्चा प्याज

कच्चे प्याज में एंटी-इंफ्लेमेंट्री गुण होते हैं जो दांतों की झनझनाहट से राहत दिलाने में मदद करते हैं। इसके लिए प्याज के छोटे टुकड़े को दांतों में दबाएं और फिर 5 मिनट बाद नमक पानी से कुल्ला कर लें।

4. लहसुन

दांतों का झनझनाहट दूर करने के लिए लहसुन काफी फायदेमंद है। इसे इस्तेमाल करने के लिए 2-3 लहसुन की कलियों को छील कर पीस लें और फिर इसमें थोड़ा-सा पानी मिला कर पेस्ट बना लें। इसे दांतों पर लगाएं और फिर थोड़ी देर बाद नमक पानी से कुल्ला कर लें। इस उपाय को दिन में 2 बार करें।

5. नारियल तेल

नारियल तेल दांतों का झनझनाहट कम करने में काफी बढ़िया उपाय है। इसके लिए नारियल तेल को 10 मिनट तक मुंह मे डाल कर घुमाएं और फिर थूक दें। फिर नमक पानी से कुल्ला कर लें।

* दांतों की झनझनाहट को ठीक करने के लिए काले तिल भी फायदेमंद होते हैं। इसके लिए दिन में 2 बार 1-1 चम्मच काले तिल को अच्छी तरह चबाएं।

सॉफ्ट या एक्स्ट्रा सॉफ्ट ब्रश का ही उपयोग करें। कड़क ब्रिसल्स से दांत घिसने लगते हैं। दांत संवेदनशील होने पर अक्सर लोगों को ब्रश करते हुए दर्द उठता है। कड़क ब्रिसल्स प्राकृतिक रूप से होने वाली मरम्मत के काम में भी अवरोध पैदा करते हैं। दांतों पर हल्के से ऊपर-नीचे ब्रश करें। ब्रश करने का तरीका गलत होने पर भी संवेदनशीलता बढ़ जाती है।

संवेदनशील दांतों के लिए बाजार में कई खास तरह के टूथपेस्ट मौजूद हैं। तो दातों में ठंडा-गरम लगने पर साधारण टूथपेस्ट के बजाय इनका उपयोग करें। व्हाइटनर युक्त टूथपेस्ट का उपयोग न करें, ये टूथपेस्ट दांतों पर कठोरता से काम करते हैं जिससे तकलीफ और बढ़ जाती है।

Leave a Reply