You are currently viewing गुड़हल तेल बनाने की विधि और बालों के लिए इसके फायदे

गुड़हल तेल बनाने की विधि और बालों के लिए इसके फायदे

Spread the love
गुड़हल तेल

बालों के विकास के लिए गुड़हल तेल (हिबिस्कुस तेल) (Hibiscus oil) बहुत ही फायदेमंद होता है। आज इस लेख में आप बालों के विकास के लिए गुड़हल तेल, शैम्‍पू और कंडीशनर बनाने के तरीके और इनके फायदों की जानकारी प्राप्‍त करेगें। आप सभी ने हिबिस्कुस तेल का नाम जरूर सुना होगा। लेकिन क्‍या कभी आपने इसका उपयोग किया है। यदि आपने इस चमत्‍कारिक तेल का उपयोग नहीं किया है तो इस लेख को ध्‍यान से पढ़ें। बालों के लिए गुड़हल के तेल के फायदे जानकर आप इसका उपयोग किये बिना नहीं रह सकते हैं।

गुड़हल का फूल आपके घर के आसपास या आंगन में जरूर नजर आ जाएगा। यह फूल अक्सर पूजा के लिए इस्तेमाल में लाया जाता है, लेकिन, क्या आप जानते हैं कि गुड़हल का फूल और इसकी पत्तियां आपके बालों के लिए लाभकारी साबित हो सकती हैं। यह फूल आपके बालों को मजबूती देने के साथ ही, इनकी ग्रोथ में भी मदद करता है। इसके अलावा, बालों से संबंधित परेशानी जैसे डैंड्रफ आदि से आपको बचाता है। इसके इस्तेमाल से आपके बाल इतने मुलायाम हो जाते हैं कि ये उलझते ही नहीं। आइऐ जाने गुड़हल की पत्तियों और फूल से आप तेल, शैम्‍पू और कंडीशनर कैसे बना सकते हैं।

गुड़हल का आयुर्वेदिक तेल बनाने की विधि

हिबिस्‍कुस (Hibiscus) का उपयोग पुरुषों और महिलाओं में बालों के झड़ने या गिरने की समस्‍या को कम करने के लिए जाना जाता है। गुड़हल के औषधीय गुण सभी प्रकार की त्‍वचा के लिए लाभकारी होते हैं और बालों की जड़ों को मजबूत करने में मदद करते हैं। आइए जाने गुड़हल का तेल कैसे बनाते हैं।

एक पैन में 1 कप तिल का तेल/ जैतून तेल (Olive oil) या नारियल तेल को गर्म करें और गुड़हल की पत्तियां और फूलों को इसमें डाल कर अच्‍छी तरह से उबालें। अब इस तेल को ठंड़ा होने दें और तेल में बचे हुए उत्‍पाद को बाहर निकाल दें। आप इस को उपयोग करने के लिए किसी एयर टाइट (Air tight) बोतल में रख लें। इस तेल का उपयोग आप अपने बालों में करें और 10 मिनिट तक मालिश करें। अच्‍छे परिणाम के लिए इसे रात भर अपने बालों में लगे रहने दें और अगली सुबह किसी हर्बल शैम्‍पू से अपने बालों को साफ कर लें। यह तेल आपके बालों के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है।

गुड़हल का हेयर मॉस्‍क बनाने की विधि

हमारे बाल अधिकतर प्रोटीन और एमिनो एसिड (amino acids) से बने होते हैं। यदि इनकी कमी के कारण बालों में विभिन्‍न प्रकार की समस्‍याएं हो सकती है जिनमें बालों का झड़ना सबसे आम समस्‍या है। प्रोटीन और एमिनो एसिड की कमी को पूरा करने के लिए अंडे की जर्दी और गुड़हल के फूलों का उपयोग किया जा सकता है। गुड़हल के फूलों में मौजूद पोषक तत्‍व बालों के विकास में महत्‍वपूर्ण योगदान देते हैं। अंडे की जर्दी (Egg yolk) में विटामिन ए होता है जो सेबम उत्‍पादन को उत्‍तेजित करके प्राकृतिक नमी को बनाए रखने और बालों की क्षमता में सुधार करता है। अंडे में मौजूद प्रोटीन लेसिथिन (lecithin) आपके बालों की शुष्‍कता को कम करने में मदद करती है। आइए जाने गुड़हल के फूलों से शैम्‍पू कैसे बनाया जा सकता है।

आपको गुड़हल का शैम्‍पू बनाने के लिए 4 अंडे और 15-20 गुड़हल के फूल और पत्तियों की आवश्‍यकता होती है। हेयर मास्‍क बनाने के लिए किसी मिक्‍सर में गुड़हल के फूल, पत्तियों और अंडों को डालकर चिकना पेस्‍ट बना लें। आप इस पेस्‍ट को 40-50 मिनिट के लिए अपने बालों में में लगाएं और फिर किसी हर्बल शैम्‍पू से अपने बालों को धो लें। घुंघराले बालों से छुटकारा पाने और कोमल बनाने के लिए इस हेयर मास्‍क को सप्‍ताह में कम से कम दो बार उपयोग करें।

एंटी-डैंड्रफ गुड़हल हेयर मास्‍क बनाने की विधि

बालों की प्रमुख समस्‍या के रूप में डैंड्रफ को जाना जाता है। डैंड्रफ को दूर करने के लिए गुड़हल, एलोवेरा और अदरक का उपयोग बहुत ही लाभकारी होता है। अदरक में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो कवक को नष्‍ट करने में मदद करते हैं। सिर में डैंड्रफ आने का प्रमुख कारण कवक ही होते हैं। अदरक के एंटीसेप्टिक गुण फ्लेक्‍स, खुजली और डैंड्रफ (Itching and dandruff) आने के पहले ही खमीर के विकास को रोक देते हैं। यदि नियमित रूप से सिर के बालों पर अदरक का उपयोग किया जाता है तो यह स्‍कैल्‍प की सूजन को कम करने में सहायक होता है। ऐलोवेरा स्‍कैल्‍प को शांत करने में मदद करती है और गुड़हल के पोषक तत्‍व सूक्ष्‍म ग्रंथियों की कार्यक्षमता को बढ़ाती है। गुड़हल, अदरक और ऐलोवेरा युक्‍त हेयर मास्‍क बालों के विकास और इन्‍हें डैंड्रफ मुक्‍त बनाने के लिए फायदेमंद होता है।

डैंड्रफ को दूर करने के लिए हेयर मास्‍क बनाने के लिए आपको 20-25 गुड़हल के फूल और पत्तियां, 5 बड़े चम्‍मच ऐलोवेरा जेल और 1-2 इंच अदरक की आवश्‍यकता होती है।

गुड़हल के फूल, पत्तियों और अदरक (Ginger) को मिक्‍सर की सहायता से पेस्‍ट बना लें। इस पेस्‍ट में एलोवेरा जेल को मिलाएं और इस मिश्रण को अपने सिर के बालों में लगाएं। आधा घंटे के बाद आप अपने बालों को हर्बल शैम्‍पू (Herbal shampoo) की सहायता से धो लें। अच्‍छे परिणाम प्राप्‍त करने के लिए आप इस आयुर्वेदिक हेयर मास्‍क को सप्‍ताह में कम से कम 2-3 बार उपयोग करें। 3 या 4 बार इस हेयर मास्‍क का उपयोग करने के बाद ही आपको डैंड्रफ से मुक्ति मिल सकती है।

गुड़हल हेयर शैम्‍पू बनाने की विधि

गुड़हल का उपयोग स्कैल्प स्‍वास्‍थ्‍य (Scalp health) के लिए बहुत ही उपयोगी होता है, इसलिए इसका उपयोग बालों को धोने के लिए भी किया जा सकता है। गुड़हल के फूल की पंखुड़ियों (Petals of flowers) का पाउडर बनाकर अपने बालों में उपयोग करें। यह आपके बालों में मौजूद प्राकृतिक तेलों को हटाए बिना ही आपके बालों में उपस्थित गंदगी को दूर करने में मदद करता है।

गुड़हल शैम्‍पू बनाने के लिए लगभग 15 गुड़हल की पत्तियां, 5 फूल, 1 बड़ा चम्‍मच बेसन और थोड़े से पानी की आवश्‍यकता होती है।

शैम्‍पू (Shampoo) बनाने के लिए 1 कप पानी में गुड़हल के फूल और पत्तियों को उबालें और इसे ठंड़ा होने दें। ठंड़ा होने के बाद आप इस मिश्रण में बेसन को मिलाएं। इस मिश्रण को आप अपने नियमित उपयोग किये जाने वाले शैम्‍पू के स्‍थान में उपयोग करें। आप इस प्राकृतिक शैम्‍पू का उपयोग एक सप्‍ताह में कम से कम तीन बार उपयोग करें। यह आपके बालों में उपस्थित सभी प्रकार की गंदगी (Dirt) को दूर करने में मदद करती है।

बालों के लिए गुड़हल के फायदे

आप अपने बालों की सभी प्रकार की समस्‍याओं को दूर करने के लिए गुड़हल के फूलों और पत्तियों का उपयोग कर सकते हैं। बालों के अच्छे विकास के लिए गुड़हल के फूलों और पत्तियों युक्‍त घर में बनाए गए आयुर्वेदिक तेल का उपयोग कर सकते हैं जो कि बालों के विकास के लिए बहुत ही असरदार होता है। आइए जानते हैं गुड़हल के फायदे बालों के लिए और किस प्रकार हैं।

गुड़हल तेल का उपयोग बालों के विकास के लिए

गुड़हल तेल का उपयोग आपके बालों के विकास में मदद करता है। आप अपने बालों को स्‍वस्‍थ्‍य और सुंदर बनाने के लिए गुड़हल के फूल को किसी भी आवश्‍यक तेल के साथ मिलाकर उपयोग कर सकते हैं। आप इसके लिए आवश्‍यक तेल के रूप में तिल का तेल, जैतून का तेल या नारियल के तेल का उपयोग कर सकते हैं। ऊपर बताइ गई विधि अनुसार गुड़हल का तेल तैयार करें और अपने बालों में इस तेल को नियमित रूप से लगाएं। यह आपके बालों के विकास को बढ़ावा देने में मदद करता है।

गुड़हल के फूल के फायदे बालों को मजबूत करे

बालों के संपूर्ण स्‍वास्‍थ्‍य और पोषण के लिए दही (yogurt) का उपयोग बहुत ही प्रभावी माना जाता है। लेकिन यदि दही के साथ गुड़हल का उपयोग किया जाए तो यह बालों को पोषण दिलाने के साथ-साथ उन्‍हें मजबूत भी बनाता है। आप दही और गुड़हल के फूलों को मिलाकर एक हेयर मास्‍क बनाएं और इसे अपने बालों में लगाएं। लगभग 20 मिनिट के बाद आप अपने बालों को हर्बल शैम्‍पू से धो लें। इस हेयर मास्‍क में आपके बालों को मजबूत (Strong hair) बनाने की क्षमता होती है।

बालों को चमकदार बनाए

गुड़हल के फूलों का उपयोग करने का एक और फायदा यह है कि यह आपके बालों को अधिक चमकदार बना सकता है। इसके लिए आप गुड़हल के फूलों के पाउडर और एलोवेरा जेल (Aloe vera gel) का उपयोग कर एक पेस्‍ट तैयार करें और अपने बालों पर इसका उपयोग करें। यह लंबे समय तक न केवल आपके बालों की चमक को बढ़ाता है बल्कि आपके बालों को झड़ने से रोकता है।

गुड़हल तेल बालों को तेजी से बढ़ाए

यदि आप अपने बालों को जल्‍दी से बढ़ाना (faster hair grow) चाहते हैं तो गुड़हल और अदरक से बने हुए हेयर मास्‍क का उपयोग करें। गुड़हल फूल और अदरक का हेयर मास्‍क आपके बालों के विकास को बढ़ावा देता है। यह हेयर मास्‍क सिर में एमिनो एसिड को उत्‍तेजित करता है और बालों को तेजी से बढ़ने में मदद करता है।

गुड़हल तेल बालों को साफ करता है

एक शैम्‍पू के रूप में हिबिस्कुस का उपयोग करके आप अपने बालों को साफ कर सकते हैं। आप गुड़हल शैम्‍पू को तैयार करने के लिए बेसन और गुलाब जल का उपयोग कर सकते हैं। इस प्राकृतिक शैम्‍पू में किसी प्रकार के हानिकारक तत्‍व नहीं होते हैं जो आपके बालों को नुकसान पहुंचाते हैं। इसलिए आप गुड़हल से निर्मित शैम्‍पू का उपयोग अपने रेग्‍यूलर शैम्‍पू के साथ कर सकते हैं, जो आपके बालों को साफ (Clean Hair) रखने में मदद करता है।

गुड़हल तेल फायदे रुखे बालों के लिए

बालों को शुष्‍क होने से रोकने के लिए गुड़हल का तेल बहुत ही फायदेमंद होता है। आप अपने बालों को शुष्‍क होने से बचाने के लिए गुड़हल, शहद, दही और नारियल के पाउडर का उपयोग कर सकते हैं। इन सभी उत्‍पादों का मिश्रण आपके सिर में पर्याप्‍त नमी बनाए रखने में मदद करता है। आप इस हेयर मास्‍क को अपने बालों में कम से कम 30 मिनिट के लिए लगाएं और फिर हर्बल शैम्‍पू (Herbal shampoo) से धो लें। यह शुष्‍क बालों से निपटने का सबसे अच्‍छा तरीका है।

गुड़हल के फूल का पाउडर बालों को मोटा करे

जिन लोगों के बाल बहुत ही नरम और पतले होते हैं उनके लिए हिबिस्कुस का उपयोग बहुत ही फायदेमंद होता है। क्‍योंकि यह बालों को मोटा बनाने में मदद करती है। आंवला पाउडर के साथ गुड़हल फूल के पाउडर को मिलाकर एक हेयर मास्‍क बनाया जा सकता है जो न केबल आपके बालों को मोटा बनाता है बल्कि इन्‍हें मजबूत भी करता है। इस प्रकार बालों के विकास के लिए आप गुड़हल (Hibiscus) को अपने बालों के विकास के लिए उपयोग कर सकते हैं।

डैंड्रफ से छुटकारा दिलाए गुड़हल का इस्‍तेमाल

हिबिस्कुस का उपयोग करने पर आप डैंड्रफ की समस्‍या (Dandruff’s problem) से बच सकते हैं। इसके लिए आप गुड़हल के फूल और मेथी का उपयोग कर एक हेयर मास्‍क तैयार कर सकते हैं जो आपके सिर में मौजूद डैंड्रफ को दूर करने में मदद करता है और इसके भविष्‍य में वापिस आने की संभावना को भी कम करता है। आप अपने बालों में इस हेयर मास्‍क (Hair mask) को लगभग 1 घंटे के लिए लगाएं और फिर हर्बल शैम्‍पू से अपने बालों को साफ कर लें। यह आपके बालों को डैंड्रफ मुक्‍त बनाने में मदद करता है।

गुड़ल का फूल आपके बालों को पोषण देता है। गुड़ल के फूल और इसका अर्क निष्क्रिय हो चुके बालों के रोम (फॉलिकल्स) और सिर के उस हिस्से जहां से बाल जा चुके हैं, वहां बालों को दोबारा उगाने में मदद करता है। इसमें मौजूद विटामिन-सी आपके बालों को घना करने में भी सहायक होता है। इससे बालों का स्वस्थ विकास होता है और बाल घने व लंबे होते हैं।

बालों के लिए गुड़हल के फायदे – Benefits of Hibiscus Oil for Hair in Hindi

1. घने व लंबे बाल

गुड़ल का फूल आपके बालों को पोषण देता है। गुड़ल के फूल और इसका अर्क निष्क्रिय हो चुके बालों के रोम (फॉलिकल्स) और सिर के उस हिस्से जहां से बाल जा चुके हैं, वहां बालों को दोबारा उगाने में मदद करता है। इसमें मौजूद विटामिन-सी आपके बालों को घना करने में भी सहायक होता है। इससे बालों का स्वस्थ विकास होता है और बाल घने व लंबे होते हैं।

2. मजबूत बाल

हिबिस्कस तेल बालों के विकास को बढ़ावा देने के साथ ही बालों को जड़ों से मजबूत करता है। इससे आपके बाल चमकदार और स्वस्थ दिखते हैं। विटामिन-सी से समृद्ध गुड़ल का तेल हेयर फॉलिकल्स यानी बालों के रोम को मजबूत बनाता है।

3. डैंड्रफ से राहत

गुड़हल आपकी स्कैल्प का भी ख्याल रखता है। इसमें मौजूद एंटी-फंगल गतिविधि की वजह से इसका इस्तेमाल डैंड्रफ से निजात दिलाने वाले तेलों में भी किया जाता है । इसलिए, आप स्कैल्प में होने वाली खुजली और रूसी से लड़ने के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

4. रूखे बालों से छुटकारा

हिबिस्कस की पत्तियां आपके बालों को मजबूत, पौष्टिक और हाइड्रेटेड रखती हैं, जिससे दो-मुंहे बालों की समस्या से छुटकारा पाने में मदद मिलती है । इससे बालों का रूखापन कम होता है और उन्हें मुलायम बनाकर उलझने से बचाया जा सकता है।

5. चमकदार बाल

गुड़हल के फूलों में मॉस्चराइजिंग गुण होते हैं । इसके अलावा इसमें मौजूद पोषक तत्व और बालों को एक नया जीवन देने के साथ ही एक नया रंग भी देने में मदद करते हैं। दरअसल, गुड़हल का इस्तेमाल हेयर कलरेंट के रूप में भी किया जाता है, इसके इस्तेमाल से आपके बालों में एक अलग रंग की चमक दिखने लगती है। वहीं, लोगों के अनुभव के आधार पर कहा जाए तो गुड़हल के फूल का पेस्ट बनाकर बालों में लगाने से बाल काफी मुलायम और चमकदार हो जाते हैं।

Please Like and Share Our Facebook Page
Herbal Medicines

Find US On Instagram
Herbal Medicines

Find US On Twitter
Herbal Medicines

50 से ज्यादा बिमारियों का इलाज है हरसिंगार (पारिजात)

गहरी और अच्छी नींद लेने के लिए घरेलू उपाय !!

गेंहू जवारे का रस, 300 रोगों की अकेले करता है छुट्टी

मात्र 16 घंटे में kidney की सारी गंदगी को बाहर निकाले

किसी भी नस में ब्लॉकेज नहीं रहने देगा यह रामबाण उपाय

Babool Fali ke Fayde, बबूल की फली घुटनों के दर्द का तोड़

पुरुषों के लिए वरदान है इलायची वाला दूध

बुढ़ापे तक रहना है जवान तो मेथीदाना खाना शुरू कर दीजिये

खाली पेट गर्म पानी के साथ काली मिर्च खाने से होगा ऐसा असर

कमर दर्द (Back Pain) का कारण और राहत के लिए घरेलू उपाय

तेजपत्ता हैं शरीर के लिए काफी लाभदायक

मांस से भी १०० गुना ज्यादा ताकतवर है ककोरा की सब्जी

विटामिन K की कमी को दूर करने के घरेलू उपाय

सहजन खाने से होती है 300 से ज्यादा बड़ी बीमारिया दूर

धतूरे के फायदे और घरेलू आयुर्वेदिक उपचार

चूना खाने के आश्चर्यजनक फायदे, जो शायद आप न जानते हों

सोते समय सिर किधर रखें और पैर किधर, ध्यान रखें ये बातें

रोज सुबह पिए 1 ग्लास लौंग का पानी, 21 दिनों में १० किलो वजन घटाएं

लहसुन वाला दूध 1 महीने तक सोने से पहले पी लें, 7 बीमारियां होगी दूर

मुनाफे के 30 बिजनेस जिन्हें आप शुरू कर सकते हैं कम पूँजी में

कोरोना से भी खतरनाक होगा चिकन से फैलने वाला ये वायरस

दिल्ली से बिहार के बीच बड़े भूकंप का खतरा? 8.5 हो सकती है तीव्रता

थायराइड को जड़ से खत्म करेगा इस औषधि का प्रयोग

चुपचाप काले कपड़े में फिटकरी बांधकर यहाँ रख दे

50 अलग अलग बीमारियों के लिए जानिए रामबाण घरेलू उपाय

ज्योतिष के अनुसार कोरोनावायरस का अंत कैसे और कब होगा?

कब्ज का रामबाण इलाज हैं ये घरेलू उपाय

फिटकरी के रामबाण उपाय – 200 से ज्यादा बिमारियों का इलाज

चीन ने नेपाल के उत्तरी गोरखा में रुई गांव पर किया कब्‍जा

अपनी आंतों की सफाई इन तरीकों से करें यदि आपको रहना है स्वस्थ

कैलाशपर्वत के 10 रहस्य जानकर हैरान रह जाएंगे, नासा भी हैरान

इस पर्वत पर माना जाता है शिव का वास, चमत्कारिक रूप से बनता है ओम

गुड़हल (Gudhal) के फूल के ये चमत्कारी फायदे नहीं जानते होंगे आप

सुबह उठकर हथेली देखने से मिलते हैं ये 3 लाभ

कोरोनावायरस की आयुर्वेदिक दवा आ गई, 7 दिन में होंगे ठीक

भूटान ने नहीं रोका था भारत के गांव का पानी, भूटान ने सफाई दी

टिकटोक समेत 59 चीनी ऍप पर भारत सरकार ने लगाया बैन

Yoga to Reduce Fat पेट कम करने के लिए योगासन

ये है 3 औषधियों का नाश्ता जो 100 वर्षों तक जवां बनाकर रखेगी

माइग्रेन के दर्द से राहत पाने के लिए ये 5 घरेलू उपाय अपनाएं

टाइफाइड (Typhoid fever) के लक्षण और घरेलू इलाज

गंजेपन का रामबाण इलाज — गंजे सर पे बाल उगाने के उपाय

प्राण योग मुद्रा डिप्रेशन-डायबिटीज जैसी बीमारियों का रामबाण इलाज

Leave a Reply