All Ayurvedic

भारतीय महिलाओं के लिए ये टिप्स जानना बहुत जरूरी, बीमारियां रहेंगी दूर

भारतीय महिलाओं के लिए ये टिप्स जानना बहुत जरूरी, बीमारियां रहेंगी दूर

Spread the love
  • सबसे पहले समय पर खाएं। बेवक्त खाया हैल्दी खाना भी शरीर को खराब करेगा। समय पर खाएं और हैल्दी खाएं। हरी सब्जियां, फल और नट्स को अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। 1 मुट्ठी भीगे बादाम जरूर खाएं।

  • ज्यादा नहीं तो रोज एक फल जरूर खाएं। फल खाने से शरीर अंदर से मजबूत होता है। सेब, शरीर के लिए सबसे बेस्ट माना जाता है।

  • खुद को एनर्जी भरपूर रखने के लिए सुबह गुनगुना पानी जरूर पीएं। सुबह सैर पर जाएं। हल्की एक्सरसाइज जरूर करें।

  • पीरियड्स खुल कर नहीं आते तो गाजर का जूस पीएं। वहीं आयुर्वेदिक नुस्खा अपनाना है तो अशोक के पेड़ की 90 ग्राम छाल को 30 मिलीलीटर पानी में 10 मिनट तक उबालें और छान कर दिन में 2 से 3 बार पीएं।

  • पीसीओडी की शिकार हैं तो बाहर का ऑयली-जंक फूड पूरी तरह से अवाइड करें और हरी सब्जियां फाइबर फूड खाएं। प्राणायाम, हलासन आदि को रुटीन में शामिल करें।

  • तनाव महसूस कर रही हैं तो मेडिटेशन का सहारा लें और योगासन करें। इससे आप सिर्फ हैल्दी ही नहीं बल्कि तनाव मुक्त भी रहेगी। सोशल एक्टिविटी में हिस्सा लें और दोस्तों के साथ समय बिताएं।

  • काम की थकान के चलते महिलाओं को रात को नींद नहीं आती। इसके लिए गुनगुने पानी में नमक डालकर बाथ लें या फिर 15 दिन में बॉडी मसाज और सपा लें। सारी थकान दूर हो जाएगी।

  • शरीर में आयरन की कमी ना होने दें, इससे खून तो कम होता है साथ ही स्किन और बाल भी खराब होते हैं। इसलिए आयरन भरपूर फूड्स खाएं। इससे स्किन पर झुर्रियां और झाइयां नहीं पड़ेगी। तुलसी की पत्तियां का सेवन करें। चुकंदर, गिलोय, टमाटर का रस और अंजीर खाएं।

  • फोलिक एसिड की कमी से जोड़ दर्द, हड्डियों की कमजोरी और खून की कमी होने लगती हैं। प्रेग्नेंट महिलाओं को यह तत्व मिलना बहुत जरूरी है। इसकी कमी पूरा करने के लिए दालें, सब्जियां खाएं।

  • प्राइवेट पार्ट की सफाई के लिए गुनगुने पानी का ही इस्तेमाल करें। वेजाइना को कपड़े की बजाय टिशू पेपर से साफ करें। इससे आप कई बीमारियों से बची रहेगी।

  • ब्रेस्ट की हफ्ते में 1 बार ऑलिव ऑयल से मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होता है। इससे ब्रेस्ट का ढीलापन दूर और स्तनों से जुड़ी बीमारियों का खतरा भी कम रहता है।

  • डिलीवरी के बाद हेयरफॉल रोकने के लिए हेयर कलर या ब्लो-ड्रायर करने से बचें। साथ ही घर पर बने कंडीशनर का इस्तेमाल करें।

  • प्रेग्नेंसी के वक्त योगा, सैर या ब्रीथिंग व पेल्विक एक्सरसाइज करें। मगर किसी भी तरह की एक्सरसाइज को करने से पहले डॉक्टरी सलाह जरूर लें।

  • नई मां बनी महिलाएं जो वजन घटाना चाहती हैं वो ब्रेस्टफीडिंग जरूर करवाएं क्योंकि स्तनपान के दौरान महिला का शरीर करीब 500 कैलोरी खर्च करता है।

  • दिनभर काम करने के बाद महिलाओं को थकान हो जाती है जिसके कारण उन्हें बढ़ती उम्र के साथ जोड़ों में दर्द और गठिया रोग हो सकता है। इसलिए हफ्ते में 1 बार बॉडी ऑयल मसाज जरूर करवाएं।
  • स्त्री रोग ,बाँझपन ,स्वेत प्रदर ,रक्त प्रदर ,आदि रोग और मोटापे से सम्बंदित कोई भी सवाल हो तो जरूर पूछिए ।

Please Like and Share Our Facebook Page
Herbal Medicines

Find US On Instagram
Herbal Medicines

Find US On Twitter
Herbal Medicines

50 से ज्यादा बिमारियों का इलाज है हरसिंगार (पारिजात)

गहरी और अच्छी नींद लेने के लिए घरेलू उपाय !!

गेंहू जवारे का रस, 300 रोगों की अकेले करता है छुट्टी

मात्र 16 घंटे में kidney की सारी गंदगी को बाहर निकाले

किसी भी नस में ब्लॉकेज नहीं रहने देगा यह रामबाण उपाय

गुर्दे की पथरी निकालने के 10 घरेलू इलाज



दाद खाज खुजली को ठीक करने के घरेलू इलाज

मिर्गी का आयुर्वेदिक इलाज – Mirgi (Epilepsy) Ka Ayurvedic ilaj

पेशाब का रंग बताता है शरीर की दिक्कत, ध्यान देने की जरूरत

यूरिक एसिड (Uric Acid) के लक्षण, कारण और घरेलू उपाय



फड पॉइजनिंग के लक्षण और घरेलू उपचार

हींग का पानी- हींग को पानी में मिलाकर पीने से होंगे ये फायदें

अच्छी नींद आने के लिए घरेलू उपाय, अनिद्रा के लक्षण

हल्दी का दूध – रात को दूध में हल्दी मिलाकर पीने के फायदे

अदरक का पानी पीने के फायदे, जड़ से खत्म होंगे कई रोग

Leave a Reply