You are currently viewing इन 12 घरेलू उपायों से बढ़ाएं अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता

इन 12 घरेलू उपायों से बढ़ाएं अपने शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता

Spread the love

यदि आप बार-बार किसी-न-किसी बीमारी की चपेट में आ जा रहे हैं, तो इसका मतलब है कि आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता घट गई है यानी कि इम्यून सिस्टम कमजोर पड़ गया है। बार-बार जुकाम और खांसी होना भी इसी ओर इशारा करता है। यहां हम आपको बता रहे हैं कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता के घटने से क्या होता है और इसे आप कैसे बढ़ा सकते हैं।

रोग प्रतिरोधक क्षमता (immune system) के घटने की वजह

अनियमित खानपान।
नींद पूरी न ले पाना।
देर रात तक काम करने की आदत।
मौसम में तेजी से होने वाले बदलाव।
नशे की आदत।
जन्मजात कमजोरी।

रोग प्रतिरोधक क्षमता (immune system) के घटने के लक्षण

बार-बार सर्दी, जुकाम आदि होना।
बीमारी जल्दी-जल्दी पड़ना।
भूख कम लगना।
घबराहट होना।
शरीर में खून की कमी से पीलापन आना।
थकान अधिक होना।
अधिक कमजोरी महसूस होना।
तनाव का हावी होना।
सिर में दर्द होना।
एकाग्रता में कमी आना।
चीजें याद न रख पाना।
यौन क्षमता भी कुप्रभावित होना।

ऐसे बढ़ाएं रोग प्रतिरोधक क्षमता (immune system)

1- नींबू और संतरा जैसी विटामिन सी (vitamin c) वाली चीजों का सेवन करें, जिससे कि ये शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं के बनने में मदद करें, ताकि आपका शरीर किसी भी तरह के संक्रमण से लड़ने के काबिल बन सके।
2- भोजन में लहसुन को शामिल कर लें, ताकि कैंसर और हर प्रकार के अल्सर से आप अपना बचाव कर सकें। इसकी दो कलियां रोज खायेंगे तो रक्तचाप पर भी नियंत्रण में रहेगा

3- पत्तेदार सब्जियों में प्रतिजीवाणु तत्वों की मौजूदगी होती है, जो शरीर को संक्रमण (infection) से बचाते हैं। अतः इन्हें अपने आहार (diet) में जरूर शामिल करें।

4- शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में दालचीनी का बड़ा योगदान होता है। साथ ही कैंसर से भी यह बचाव करता है।

5- अदरक, मूंग की दाल और सेंधा नमक का थोड़ी मात्रा में नियमित इस्तेमाल करने से भी इम्यूनिटी सिस्टम सुधरता है।

6- गाय का दूध तो जरूर पीएं। खराब कोलेस्ट्राॅल की मात्रा शरीर में घटाकर यह अच्छे कोलेस्ट्राॅल के बनने में मदद करता है।

7- मशरुम में पाये जाने वाले खनिज (minerals), रिबोफ्लैविन, नाइसिन और विटामिन बी शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में बेहद असरदार साबित होते हैं। या तो सलाद या फिर सूप में इसका सेवन करने की आदत डाल लें।

8- पालक तो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए बहुत ही जरूरी माना जात है, क्योंकि इसमें मौजूद फोलेट नामक तत्व शरीर में नयी कोशिकाओं के निर्माण में सहायक तो होता ही है, साथ में क्षतिग्रस्त डीएनए की मरम्मत भी अच्छी तरह से कर देता है।

9- बादाम रोजाना जरूर खाएं। इसमें मौजूद मैग्नीशियम और कैल्शियम बड़े मददगार साबित होते हैं।

10- रोजाना यदि आप 10 ग्राम काजू खा लें, तो इससे आपके शरीर में आयरन की कमी नहीं होगी। इससे आपके शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता हमेशा मजबूत बनी रहेगी।

11- दिल की बीमारियों (heart diseases), तनाव, त्वचा (skin) संबंधी बीमारियों को शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाकर दूर रखने में कच्ची हल्दी भी बड़ा योगदान देता है। इसे दूध में मिलाकर लिया जा सकता है।

12- प्याज भी बड़ा फायदेमंद है, क्योंकि इसमें मौजूद एलिसिन से कैंसर (cancer) और कई प्रकार के संक्रमण शरीर से दूर ही रहते हैं।

Please Like and Share Our Facebook Page
Herbal Medicines

Find US On Instagram
Herbal Medicines

Find US On Twitter
Herbal Medicines

गुर्दे की पथरी निकालने के 10 घरेलू इलाज

दाद खाज खुजली को ठीक करने के घरेलू इलाज

मिर्गी का आयुर्वेदिक इलाज – Mirgi (Epilepsy) Ka Ayurvedic ilaj

पेशाब का रंग बताता है शरीर की दिक्कत, ध्यान देने की जरूरत

यूरिक एसिड (Uric Acid) के लक्षण, कारण और घरेलू उपाय

फड पॉइजनिंग के लक्षण और घरेलू उपचार

हींग का पानी- हींग को पानी में मिलाकर पीने से होंगे ये फायदें

अच्छी नींद आने के लिए घरेलू उपाय, अनिद्रा के लक्षण

हल्दी का दूध – रात को दूध में हल्दी मिलाकर पीने के फायदे

अदरक का पानी पीने के फायदे, जड़ से खत्म होंगे कई रोग

ककोरा – दुनिया की सबसे ताकतवर सब्जी है ककोड़ा/कंटोला

पेशाब से जुड़ी समस्याएं जैसे पेशाब में जलन आदि का घरेलू इलाज

Leave a Reply