You are currently viewing जोड़ों के दर्द और अर्थराइटिस में आराम दिलाती है दालचीनी, जानें कैसे करना है प्रयोग

जोड़ों के दर्द और अर्थराइटिस में आराम दिलाती है दालचीनी, जानें कैसे करना है प्रयोग

Spread the love

अर्थराइटिस में दालचीनी के प्रयोग से जोड़ों के दर्द से जल्दी राहत मिलती है।
दालचीनी में दर्द और सूजन को खत्म करने के गुण होते हैं।
तत्काल राहत ही नहीं, दालचीनी धीरे-धीरे गठिया को ठीक कर देती है।
अर्थराइटिस या गठिया के कारण जोड़ों और हड्डियों में दर्द बना रहता है। आमतौर पर इस दर्द का असर घुटनों, कोहनी, उंगलियों और तलवों में ज्यादा होता है। कई बार दर्द के साथ-साथ जोड़ों में सूजन भी होती है। इस दर्द के कारण व्यक्ति को उठने-बैठने और चलने में भी परेशानी होने लगती है। इस तरह के दर्द में बार-बार दवाओं के प्रयोग से बेहतर है कि आप आयुर्वेद में बताए गए आसान घरेलू उपायों का प्रयोग करें। अर्थराइटिस में दालचीनी के प्रयोग से जोड़ों के दर्द से जल्दी राहत मिलती है।

दर्द से तुरंत राहत के लिए दालचीनी पेस्ट:- दालचीनी पाऊडर में कुछ बूंदे पानी की मिला लें। इसका एक गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें। इस पेस्ट को जोड़ों पर लगाएं और फिर मुलायम कपड़े से ढंक दें, ताकि वो लंबे समय तक लगा रहे। दालचीनी में दर्दनिवारक और सूजनरोधी गुण होते हैं। इसलिए इसके प्रयोग से अर्थराइटिस के कारण होने वाली सूजन और दर्द दोनों में फायदा मिलता है

दर्द से तुरंत राहत के लिए दालचीनी पेस्ट:- दालचीनी पाऊडर में कुछ बूंदे पानी की मिला लें। इसका एक गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें। इस पेस्ट को जोड़ों पर लगाएं और फिर मुलायम कपड़े से ढंक दें, ताकि वो लंबे समय तक लगा रहे। दालचीनी में दर्दनिवारक और सूजनरोधी गुण होते हैं। इसलिए इसके प्रयोग से अर्थराइटिस के कारण होने वाली सूजन और दर्द दोनों में फायदा मिलता

दालचीनी और शहद:- डेढ़ चम्मच दालचीनी पाऊडर और एक चम्मच शहद मिला लें। रोज़ सुबह खाली पेट एक कप गर्म पानी के साथ इसका सेवन करें। इससे गठिया के दर्द में राहत मिलती है और जोड़ों में जमा यूरिक एसिड कम होता है, जिससे अर्थराइटिस धीरे-धीरे कम होने लगता है। एक सप्ताह में इसका असर दिखना शुरू हो जाएगा।

सप्ताह में 2 बार पिएं ये स्पेशल चाय:- गठिया की समस्या को धीरे-धीरे जड़ से मिटाना है, तो आपको सप्ताह में दो बार स्पेशल चाय पीनी चाहिए। इस चाय को बनाने के लिए 250 ग्राम दूध व उतने ही पानी में दो लहसुन की कलियां, एक-एक चम्मच सौंठ या हरड़ तथा एक-एक दालचीनी और हरी इलायची डालकर उसे अच्छी तरह से धीमी आंच पर पकाएं। जब पानी जल जाए, तो उस दूध को पियें, गठिया रोगियों को जल्द फायदा होगा।

गठिया को कम करने के लिए जरूरी बातें:- अर्थराइटिस व्यक्ति के जोड़ों, आंतरिक अंग और त्वचा को नुकसान पहुंचा सकता है। घरेलू नुस्खे के अलावा अर्थराइटिस से राहत पाने के लिए इन बातों का भी ध्यान रखना जरूरी है।
अपना वजन कम रखें क्योंकि ज्यादा वज़न से आपके घुटने तथा कूल्हों पर दबाव पड़ता है।

सुबह गरम पानी से नहाएं।:-

कसरत तथा जोड़ों को हिलाने से भी धीरे-धीरे ये समस्या दूर होती है।:-

Leave a Reply