You are currently viewing मोटापा और पेट कम कैसे करें ?

मोटापा और पेट कम कैसे करें ?

Spread the love

छोटी पीपल को लेकर उसको खूब महीन सा पीस लें और फिर उसे कपड़े से छान लें। दो चम्मच चूर्ण को रोज़ाना सुबह, दोपहर व शाम को छाँछ के साथ सेवन करें। १ महीने में ही आपको असर दिखना शुरू हो जाएगा और आपकी निकली हुई तोंद व मोटापा कम हो जाएगा।

एक गिलास पानी में दो चम्मच जीरा रात भर के लिए भिगोकर रख दें। सुबह इसे उबाल लें और फर पी लें। जितना जीरा बचा हुआ है उसे भी चबा लें। इसका अगर रोज़ सेवन करे तो पूरे शरीर की अनावश्यक चर्बी शरीर के बहार निकल जाएगी।

हल्दी व आंवले को बराबर मात्रा में पीस लें और उसका चूर्ण बना लें और दो चम्मच चूर्ण सुबह व शाम सेवन करें, इसके प्रयोग से मोटापा व निकली हुई तोंद कम हो जाएगी।

एक गिलास गुनगुना पानी कर लें और उसमे चुटकी भर दालचीनी और एक चम्मच शहद मिक्स करे और इसे पीये, इसे पीने से वजन कम होता है। ये बॉडी के मेटाबोलिज्म को तेज़ी से बढ़ता है और पेट स्लिम रखता है।

दो चम्मच शहद लें और उसमे एक चम्मच पुदीना का रास मिला लें और इस मिश्रण को सुबह-शाम दोनों समय सेवन करें। पेट अंदर भी हो जाता है और मोटापे से राहत भी मिलती है।

खाना खाते वक्त टमाटर और प्याज की सलाद का सेवन काली मिर्च और नमक डालकर जरूर करें। जिससे शरीर को विटामिन सी, विटामिन ए और आयरन के साथ-साथ लाइकोपीन मिलता है इसकी वजह से भी वजन व मोटापा नियंत्रित हो जाता है।

शुद्ध गुग्गुल की १ से २ ग्राम को गर्म पानी के साथ दिन में ३ बार सेवन करने से लाभ मिलता है ये पेट की चर्बी को गलाता है जिससे मोटापन दूर होता है।

ईसबगोल रेशे का अच्छा स्त्रोत होने के कारण मोटापे को भी कम करती है। जब यह पेट में पहुँचती है तो जल को अवशोषण करते हुए पेट को भर देती है। जिससे व्यक्ति को भूख नहीं लगने का अहसास होता रहता है।

गुग्गुल, त्रिकुट, त्रिफला और काली मिर्च को बराबर मात्रा में लेकर पीसकर चूर्ण बना लें, फिर इस बने चूर्ण को अच्छी तरह अरंडी के तेल में घोटकर रख लें, इस चूर्ण को रोजाना ३ ग्राम की मात्रा में सेवन करने से मोटापा दूर हो जाएगा।

Leave a Reply