You are currently viewing नागकेसर के चमत्कारिक उपाय जानकर हैरान रह जाएंगे

नागकेसर के चमत्कारिक उपाय जानकर हैरान रह जाएंगे

Spread the love

अगर आप घर में आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं या फिर गृह कलेश जैसी स्थिती से गुजर रहे हैं तो तंत्र शास्त्र के अनुसार ये चमत्कारी बीज आपकी इन परेशानियों को चुटकियों में हल कर सकते हैं। तंत्र शास्त्र में नागकेसर को बहुत ही उपयोगी माना गया है। यह धन प्राप्ति, गृह क्लेश दूर करने तथा और भी कई तंत्र क्रियाओं में उपयोग किया जाता है।

नागकेसर वैसे तो आम वनस्पति है, लेकिन आसानी से उपलब्ध नहीं होता। काली मिर्च की तरह गोल दिखने वाले और कबाबचीनी की तरह डंडी लगे हुए नागकेशर पेड़ के बीज का इस्तेमाल पूजा पाठ में किया जाता है। नागकेसर के बहुत से टोटके हैं जिनका उपयोग धन प्राप्ति और गृह कलेश को दूर करने में किया जाता है।

शिव प्रिय, मेंहदी के पौधे के समान लगने वाले सहज, सुलभ, सस्ता, पवित्र व प्रभावशाली पौधा तांत्रिक साधना में अति महत्वपूर्ण होता है। नागकेसर के सूखे फूल औषध, मसाले और रंग बनाने के काम में आते हैं। इनके रंग से प्रायः रेशम रँगा जाता है। श्री लंका में बीजों से गाढा, पीला तेल निकालते हैं, जो दीया जलाने और दवा के काम में आता है। तमिलनाडु में इस तेल को वातरोग में भी मलते हैं। इसकी लकड़ी से अनेक प्रकार के सामान बनते हैं। आईये जानते है नागकेशर और किन-किन कामों में लाभकारी सिद्ध होती है।

नागकेसर के चमत्कारिक उपाय

समृद्धि कारक

पीले कपड़े में नाग केशर, हल्दी, सुपारी, ताॅबे का एक सिक्का व चावल लेकर फिर धूप-दीप से पूजन करके शिव के सम्मुख रखकर यदि गल्ले या दुकान में रखेगें तो समृद्धि आयेगी। ओज वृद्धि-नागकेशर, चमेली के पुष्प, अगर, तगर, कुमकुम व घी का लेप बनाकर मस्तक पर लगाने से व्यक्ति तेजवान बनता है।

व्यक्तित्व की तरफ आकर्षित होना है तो आकर्षण करने हेतु

रविपुष्य योग में या किसी शुभ तिथि में नागकेशर, चमेली के फूल, कूट, तगर, कुमकुम, गाय का घी इन्हें घोटकर तिलक करने से लोग आपके व्यक्तित्व की तरफ आकर्षित होंगे। गर्भवती-पीपल, सोंठ, कालीमिर्च और नागकेसर इन सभी को बराबर मात्रा में पीसकर छान लें उसके बाद इसमें घी मिलाकर 7 दिन तक लगातार खाने से बाॅझ स्त्री को भी स्त्री भी गर्भवती हो जाती है।

विटामिन K की कमी को दूर करने के घरेलू उपाय

विटामिन B-12 की कमी है तो जरूर खाएं ये आहार

गर्भ ठहरने में मदद करता है

नागकेसर और सुपारी का चूर्ण सेंवन करने से भी गर्भ ठहर जाता है। पुत्रजीव वृक्ष की जड़ को दूध में पीसकर पीने सु पुत्र दीर्घायु होता है। पुत्रजीव वृक्ष की जड़ और देवदारू इन दोनों को दूध में पीसकर पीने से पुत्र अवश्य होता है। माशे नागकेशर, गाय के दूध के साथ 7 दिन तक पीने से बाॅझ स्त्री को भी पुत्र की प्राप्ति होती है।

वास्तुदोष को दूर करने में मदद करता है

खूनी बवासीर-नागकेसर के चूर्ण मिश्री या मखक्कन के साथ मिलाकर खाने से खूनी बवासीर में लाभ मिलता है। वास्तु दोष-भवन के वास्तुदोष को दूर करने के लिए नागकेसर की लकड़ी से हवन करने से वास्तुदोष का शमन होता है।

गृह कलेश

नागकेसर के फूल या फिर बीज का लेप बनाकर उसका तिलक अपने माथे पर लगाए। ऐसा करने में घर में कलह का माहौल शांत होता है। या फिर घर में शिवलिंग हो तो उस पर नागकेसर के फूल चढ़ान से भी गृह कलेश से मुक्ति मिलती है।

विटामिन D की कमी को दूर करने के उपाय

कैल्शियम की कमी दूर करने के लिए आजमाएं ये घरेलू उपाय

धन प्राप्ति के लिएः 

धन प्राप्ति के लिए नागकेसर के बहुत से तरीके प्रचलित हैं।

इसके लिए किसी शुभ मुहूर्त में नागकेशर और पांच सिक्के लेकर उसकी पूजा करें और बाद में एक कपड़े में लपेट कर अपनी दुकान के गल्ले या ऑफिस के केश बॉक्स में रख दें।

एक नए पीले कपड़े में नागकेसर, हल्दी, सुपारी, एक सिक्का, तांबे का टुकड़ा या सिक्का, अक्षत रखकर, धूप दीप से पूजर करके सिद्घ कर लें और फिर अलमारी, तिजोरी आदि में रख दें।

चांदी की एक छोटी सी ढक्कन वाली डिबिया लें। इसमें नागकेसर व शहद भरकर शुक्ल पक्ष की रात को या अन्य किसी शुभ मुहूर्त में अपने गल्ले या तिजोरी में रख दें। आपके धन में अचानक वृद्धि होने लगेगी।

हर शुक्रवार को 1 नागकेसर का फूल लें और इसकी पूजा करें। इसके बाद इसे एक साफ़ सफ़ेद कपडें में लपेटकर अपनी दूकान के गल्ले या अपने ऑफिस के केश बॉक्स में रखे तो धन की आवक कभी कम नहीं होगी।

व्यापार में हानि हो रही है तो किसी शुभ मुहूर्त में निर्गुण्डी (एक प्रकार की वनस्पति) की जड़, नागकेसर के फूल और पिली सरसों के दाने एक छोटी पोटली में बांधकर दूकान के बाहर टांग दें। इससे व्यापार में वृद्धि होती है।

नोटः किसी भी प्रकार के उपाय करने से पहले ज्योतिष की सलाह जरूर लें। उपायों की प्रमाणिकता आपकी राशि-गृहदशा के अनुसार अलग-अलग हो सकती है।

Please Like and Share Our Facebook Page
Herbal Medicines

Find US On Instagram
Herbal Medicines

Find US On Twitter
Herbal Medicines

This Post Has 4 Comments

  1. Dinesh

    Nice

Leave a Reply