You are currently viewing पैरों के छाले को ठीक करने के घरेलू उपाय !!

पैरों के छाले को ठीक करने के घरेलू उपाय !!

Spread the love

Foot blisters: पैर हमारे शरीर का पूरा भार उठाते हैं लेकिन फिर भी हम पैरों के स्वास्थ्य के प्रति जागरुक नहीं होते हैं। पैरों के स्वास्थ्य का ख्याल ना रखने पर पैरों पर फ्लूइड से भरे छाले भी पड़ सकते हैं। काफी देर तक पैदल चलने, दौड़ने, बहुत ज्यादा एक्सरसाइज करने और पुराने और गलत फिटिंग वाले जूते पहनने से भी पैरों में छाले पड़ सकते हैं। इसके अलावा जूतों में बहुत ज्यादा तापमान होने से, सनबर्न होने से, एलर्जी रिएक्शन होने से, जलन होने और त्वचा के छिलने से भी पैरों में छाले पड़ सकते हैं।

1. एलोवेरा : एलोवेरा में मौजूद गुण छालों की सूज़न  को कम करते हैं। कुछ समय के लिए छालों पर एलोवेरा का जैल लगाकर रखें। इससे जलन या खुज़ली हो सकती है। जब यह ड्राई हो जाए इसे गर्म पानी से धो लें। छालों को कम करने के लिए इसे दिन में दो बार लगाएं।

2. ग्रीन टी : ग्रीन-टी में एंटी-इंफ्लेमेटरी और उपचारात्मक गुण होते हैं। इसमें एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन भी मौजूद होते हैं जो दर्द को कम करने में मदद करते हैं और छालों पर सूज़न  को कम करते हैं। गर्म पानी में ग्रीन टी बैग और बेकिंग सोडा डालें। जब टी बैग ठंडा हो जाए इसे कुछ समय के लिए छालों पर लगाकर रखें। बेकिंग सोडे में एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो इंफेक्‍शन रोकते हैं। इसे दिन में दो से तीन बार ट्राई करें।

3. सेब का सिरका : छालों का इलाज करने के लिए यह एक आसान घरेलू उपाय है। सेब का सिरका सूज़न और दर्द को कम करने में मदद करता है। इसके जीवाणुरोधी गुण दर्द कम करने और इंफेक्‍शन दूर करने का काम करते हैं। रुई के फाहे से सेब के सिरके को प्रभावित हिस्से पर लगाएं। इसमें थोड़ा दर्द हो सकता है लेकिन ये छालों को जल्द ठीक भी कर देगा। प्याज के पेस्ट में सेब का सिरका मिक्स करके इसे छालो पर अप्‍लाई करें। सूखने पर पानी से धो लें।

4. कैस्टर ऑयल : घने बालों की चाह रखने वाले लोगों के लिए कैस्टर ऑयल काफी फायदेमंद होता है। इसके अलावा इसे लिप्स और अब छालों पर भी लगाया जाता है। छालों को मॉइस्चराइज करने के लिए इसका इस्तेमाल किया जाता है ताकि ड्राईनेस, खुज़ली और रेडनेस को रोका जा सके। कैस्‍टर ऑयल रात में छालों पर जादुई कमाल करता है। इसे छालों पर अप्‍लाई करें और रातभर रहने दें। सिरके और कैस्टर ऑयल को मिलाकर छालों पर लगाएं और इसे सूखने दें। इसे दिन में दो से तीन बार ट्राई करें।

5. पेट्रोलियम जेली : आपको लगता होगा कि पेट्रोलियम जेली केवल फटे होंठों को ठीक करती है? पर आपको बता दें ये छाले दूर करने में भी मददगार होते हैं। यह दर्द को कम करने और ड्राईनेस दूर करने में मदद करता है। पैरों को दिन में दो बार 15 मिनट के लिए गर्म पानी में भिगोकर रखें और फिर तौलिए से इसे सूखा लें। अब इन पर पेट्रोलियम जेली लगाएं। जहां एक ओर गर्म पानी दर्द और इंफेक्‍शन कम करेगा, वहीं जेली इसे मॉइस्चराइज करने में मदद करेगी।

6. नमक : नमक छालों से होने वाले दर्द को कम करता है। ठंडे पानी में नमक डालें और इसमें कपड़ा भिगोकर छाले पर लगाएं। आप गर्म पानी में नमक भी डाल सकते हैं। इससे 15 मिनट तक अपने पैरों को सेकें। यह सूज़न  दूर करने में मदद करेगा और दर्द को भी कम करेगा।

  7. टी-ट्री ऑयल : टी-ट्री ऑयल में एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-एस्ट्रीजेंट गुण होते हैं। इसलिए यह पैरों के छालों को खत्म करने के लिए उपयोगी होता है। एक कप में साधारण पानी और नारियल का तेल लेकर मिलाएं। अब इस मिश्रण में कुछ बूंदे टी-ट्री ऑयल मिलाएं। एक कॉटन बॉल की मदद से इस तेल को त्वचा पर लगाएं जिससे छाला जल्दी ठीक हो जाता है।

Leave a Reply