You are currently viewing शकरकंद के 10 फायदे !!

शकरकंद के 10 फायदे !!

Spread the love

मधुमेह में फायदेमंद शकरकंद

मधुमेह से परेशान लोगों के लिए शकरकंद के फायदे और भी अधिक हैं। इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती है। इस प्रकार यह बल्ड शुगर की मात्रा नियंत्रित करने में सहायक हो सकता है। शकरकंद में फाइबर की मात्रा अधिक होती है और यह मधुमेह के इलाज में चमत्कारिक रूप से काम कर सकता है (2) (3)।

प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए

आपकी प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में यह मीठा आलू महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। शकरकंद विटामिन-सी का अच्छा स्रोत माना जाता है, जो प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में कारगर साबित हो सकता है।

दिल को करे दुरुस्त

शकरकंद पोषक तत्वों से भरपूर है। इसमें फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन-बी पाए जाते हैं, जो सूज़न को कम करने में सहायक होते हैं। सूज़न की वजह से नसों में खून का प्रवाह धीमा हो सकता है, जिससे दिल से संबंधित बीमारियों का खतरा रहता है। ऐसे में शकरकंदी में पाए जाने वाले ये पोषक तत्व आपको इससे बचा सकते हैं।

अस्थमा से राहत

अस्थमा से जूझ रहे लोगों के लिए भी शकरकंद का सेवन लाभदायक हो सकता है। एंटीऑक्सीडेंट और अन्य मिनरल्स से भरपूर शकरकंद अस्थमा से राहत दिला सकता है। इसमें पाया जाने वाला बीटा-कैरोटीन अस्थमा जैसे श्वास संबंधी समस्याओं में लाभकारी होता (7)।

हड्डियां मजबूत करे

नेशनल ऑस्टियोपोरोसिस फाउंडेशन (NOF) के अनुसार, मजबूत हड्डियों के लिए कैल्शियम, मैग्नीशियम और पोटैशियम कारगर साबित होते हैं (8)। इसके अलावा, विटामिन-ए को भी हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है। शकरकंद को मैग्नीशियम और पोटैशियम का अच्छा स्रोत माना गया है। साथ ही इसमें विटामिन-ए भी पाया जाता है। इस प्रकार मजबूत हड्डियों के लिए शकरकंद को खाया जा सकता है।

मस्तिष्क के लिए

अच्छी सेहत के लिए मस्तिष्क का स्वस्थ होना भी आवश्यक है। मस्तिष्क स्वस्थ रहेगा, तो शरीर के अन्य अंग भी सुचारू रूप से काम करेंगे और शकरकंद का नियमित सेवन मस्तिष्क की कार्य क्षमता को बढ़ा सकता है। एक शोध के मुताबिक मीठा आलू यानी शकरकंद आपकी याददाश्त और सीखने की क्षमता को बढ़ा सकता है।

आंखों की रोशनी बढ़ाए

शकरकंद में विटामिन-ए और सी प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं, जो आंखों की रोशनी बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। इसके अलावा, बढ़ती उम्र में होने वाली मोतियाबिंद जैसी गंभीर समस्या से भी छुटाकार मिल सकता है।

श्वास संबंधी समस्याओं में लाभकारी

सांस से संबंधी रोग से परेशान लोगों के लिए भी शकरकंदी फायदेमंद हो सकती है। यह मीठा आलू कफ़ को दूर कर ब्रोंकाइटिस जैसी बीमारियों से बचा सकता है। एक शोध के मुताबिक शकरकंद में बीटा-कैरोटीन पाया जाता है, जो श्वास संबंधी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में लाभदायक हो सकता है।

वज़न कम करे

शकरकंद बढ़ते वज़न को कम और नियंत्रित कर सकता है। यह फाइबर का अच्छा स्रोत माना जाता है, जो लंबे समय तक टिका रहता है और इससे आपको भूख भी कम लगती है। इस प्रकार शकरकंद खाने से आप ओवर इटिंग से बचे रहेंगे और आपका वजन भी नियंत्रित हो सकता है।

एंटीऑक्सीडेंट

शकरकंद में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो शरीर से हानिकारक तत्वों को बाहर निकालकर स्वास्थ्य को अच्छा बनाने में सहायता करते हैं। विटामिन-सी, विटामिन-ई और बीटा-कैरोटीन जैसे मिनरल्स एंटीऑक्सीडेंट के उदाहरण हैं, जो बीमारियों की रोकथाम और अच्छी सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं।

Leave a Reply