All Ayurvedic

सुबह 1 गिलास पानी में चुटकी भर इसे मिलाकर पीने से मधुमेह घुटने टेक दे, ब्लडप्रेसर और खून साफ करने में अद्भुत है

सुबह 1 गिलास पानी में चुटकी भर इसे मिलाकर पीने से मधुमेह घुटने टेक दे, ब्लडप्रेसर और खून साफ करने में अद्भुत है

Spread the love

शिलाजीत शारीरिक शक्ति को बढ़ाता है, इसके सेवन से बूढ़े इंसान में भी 20 वर्ष के जवान की तरह ताकत आ जाती है। शिलाजीत के फायदों को जानने से पहले आपको यह जानना जरूरी है कि आखिर शिलाजीत क्या है?

प्राचीन वैदिक ग्रथों के अनुसार पत्थर से शिलाजीत बनता है। गर्मियों में सूर्य की गर्मी से पहाड़ों की चट्टानों के धातु पिघलने लगती है वह शिलाजीत कहा जाता है। यह तारकोल की तरह गाढ़ा और काला होता है। शिलाजीत का स्वाद में कसैल, गर्म और ज्यादा कडवा होता है। इसमें से गोमूत्र की तरह की गंध आती है।

शिलाजीत चार प्रकार का होता है। स्वर्ण, रजत, लौह और ताम्र। शिलाजीत का सेवन सुबह एक गिलास पानी मे मक्का के दाने या एक चुटकी के बराबर घोल कर पीने से नीचे बताये गए फायदे आपको मिलेंगे, आइये जाने इससे होने वाले फ़ायदो के बारे में…

शिलाजीत के 14 अद्भुत फ़ायदे :

शारीरिक शक्ति :

शिलाजीत का सबसे पहला और अहम फायदा यह है कि यह पुरूषों की शारीरिक क्षमता को बढ़ाता है। शिलाजीत का सेवन करते हुए आपको मिर्च मसाले, खटाई और अधिक नमक के सेवन से परहेज करना है।इस से शारीरिक कमजोरी ठीक होती है

तनाव की समस्या :

शिलाजीत का सेवन करने से तनाव को पैदा करने वाले हार्मोन्स संतुलित हो जाते हैं जिससे इंसान को टेंशन की समस्या नहीं होती है।और आप तनाव मुक्त महसूस करते है

शरीर में उर्जा बढ़ाएँ :

तुरंत उर्जा देता है शिलाजीत। इसमें अधिक मौजूद विटामिन और प्रोटीन की वजह से शरीर में उर्जा बढ़ जाती है।

हड्डियों के रोग में : 

शिलाजीत खाने से हड्डियों की मुख्य बीमारियां जैसे जोड़ों का दर्द और गठिया की समस्या दूर होने के साथ हड्डियां मजबूत बनती हैं।और हडियो के अनेक रोगों से छुटकारा मिलता है

ब्लडप्रेशर में : 

बल्डप्रेशर को सामान्य किया जा सकता है शिलाजीत के इस्तेमाल करने से। यह शरीर में खून को साफ करके नसों में रक्तसंचार को ठीक करता है।

बूढ़ा होने से बचाता है :

उम्र बढ़ने के साथ ही चेहरे और शरीर की त्वचा झुर्रीदार होने लगती है। ऐसे में सफेद मसूली, अश्वगंधा और शिलाजीत को मिलाकर बनाई गई दवा शरीर को फिर से जवां बनाने का काम करती है।

डायबिटीज के रोग में :

शिलाजीत मधुमेह से ग्रसित लोगों के लिए बेहद फायदेमंद औषधि है। एक चम्मच त्रिफला चूर्ण और एक चम्मच शहद को दो रत्ती शिलाजीत के साथ खाने से मधुमेह ठीक हो जाता है आप इससे प्रयोग कर के खुद फर्क देख सकते है

ये भी पढ़े –

फंगल इंफेक्शन पर काबू पाने के लिए करे ये घरेलू उपाय

चूना खाने के आश्चर्यजनक फायदे, जो शायद आप न जानते हों

बबूल गोंद करता है कई बीमारियों का खात्मा, इसके चमत्कारिक फायदे जानकर उड़ जाएंगे होश

बढ़ाए दिमाग की क्षमता को :

रोज एक चम्मच मक्खन के साथ शिलाजीत का सेवन करने से दिमाग की क्षमता बढ़ती है। शिलाजीत न केवल शरीर की ताकत को बढ़ाता है यह दिमाग को भी तेज करता है।

दिल की बीमारी में शिलाजीत : 

दिल की सेहत के लिए बहुत ही अच्छी औषधि है शिलाजीत। यह उच्च रक्तचाप की समस्या को भी ठीक करता है।

सूजन में शिलाजीत :

यदि गठिया या सूजन की समस्या हो रही हो तो वे शिलाजीत का सेवन करें आपको राहत मिलेगी।और सूजन उतर जायगी! हमें सहयोग देने के लिए हमारे Herbal Medicines पर Like ज़रूर करें!

कमजोर पाचनतंत्र :

जब पाचनतंत्र कमजोर होता है तब इंसान के शरीर को कई बीमारियां लगने लगती है। शिलाजीत खाने से पाचनतंत्र मजबूत और स्वस्थ बनता है।

किड़नी की परेशानी :

पैनक्रियाज और किड़नी की समस्या को भी ठीक करता है शिलाजीत। क्योंकि शिलाजीत शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को ठीक रखता है।और किडनी की समस्या से छुटकारा दिलाता है

ये भी पढ़े –

इस तरह अस्थमा की समस्या को जड़ से खत्म करते हैं यह घरेलू उपचार

सूर्य नमस्कार इन 10 बीमारियों का है काल

Muscle Cramps: नस पर नस चढ़ जाये तो तुरंत करें ये उपाय | Muscle Spasm Home Remedy |

कमजोर दिमाग : 

दिमाग की कमजोरी को दूर करने लिए शिलाजीत का सेवन करें। दूध और शहद के साथ शिलाजीत को सुबह सूर्य उगने से पहले सेवन करना चाहिए।

शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना :

शरीर की कमजोरी दूर करना और बीमारियों से लड़ने में रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना शिलाजीत के सेवन से होता है। दूध के साथ शुबह शाम शिलाजीत को खाने से इंसान बीमार नहीं पड़ता है।

शिलाजीत खाने में सावधानियां :

अधिक शिलाजीत खाने से एलर्जी हो सकती है। गर्भावस्था में शिलाजीत नहीं खाना चाहिए। शिलाजीत के अधिक सेवन से बचना चाहिए।और बताई गयी मात्रा में ही प्रयोग करना चाहिए

हम चाहते हैं कि हर भारतीय अंग्रेजी दवाओं की बजाय घरेलु नुस्खों और आयुर्वेद को ज्यादा अपनाये.

अगर आपको इससे कोई फायदा लगे तो इसे शेयर करके औरों को भी बताएं.

This Post Has One Comment

  1. Vikram

    Vs

Leave a Reply