You are currently viewing सुबह सुबह खाली पेट काजू क्यों खाना चाहिए ?

सुबह सुबह खाली पेट काजू क्यों खाना चाहिए ?

Spread the love

ड्राई फ्रूट्स की बात हो और काजू का जिक्र न हो, ऐसा तो हो ही नहीं सकता। भारत में अलग-अलग स्थानों पर इसका उपयोग विभिन्न तरीकों से किया जाता है। इसका उपयोग कहीं मीठे पकवान, तो कहीं मसालेदार व्यंजनों का जायका बढ़ाने के लिए किया जाता है। यहां आपको बता दें कि काजू का इस्तेमाल सिर्फ खाने भर तक सीमित नहीं है, बल्कि इसका प्रयोग शरीर की कई समस्याओं से निजात दिलाने के लिए किया जा सकता है। काजू को ड्राई फ्रूट्स का राजा माना जाता है. क्या आप जानते हैं कि काजू खाने के स्वाद के साथ ही सेहत का भी ख्याल रखता है। इस लेख में जानिए शरीर के लिए काजू खाने के फायदे क्या-क्या हैं।

यह शरीर में खून को बढ़ाने के लिए उपयोगी है इसमें पाए जाने वाले पोषक तत्व हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए भी कारगर साबित होते हैं। जिन लोगों को अक्सर पेट से संबंधित परेशानी रहती है जैसे गैस, कब्ज, अपच वह इसे पीसकर इसमें स्वाद अनुसार नमक डालकर एक पेस्ट तैयार कर इसका सेवन करें, ऐसा करने से आपको फायदा मिलेगा। जो लोग जोड़ों की समस्या से परेशान है वह रोजाना काजू खाएं इससे उन्हें लाभ प्राप्त होगा क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है जो हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है।

काजू के फायदे – Benefits of Cashew Nuts in Hindi

काजू कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है । जितना यह स्वादिष्ट है, उससे कहीं ज्यादा यह सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है। आइए जानते हैं सेहत के लिए काजू के फायदे।

1. हृदय स्वास्थ्य के लिए काजू

काजू को नट्स की श्रेणी में रखा जाता है और नट्स शरीर को कई रूपों में फायदा पहुंचाने का काम करते हैं। हृदय के स्वास्थ्य को बरकरार रखने के लिए भी नट्स महत्वपूर्ण माने जाते हैं। इनमें बायोएक्टिव मैक्रोन्यूट्रिएंट्स मौजूद होते हैं, जो हृदय को स्वस्थ रखने का काम कर सकते हैं ।

2. कैंसर

कैंसर जैसी घातक बीमारी के खिलाफ काजू एक प्रभावकारी भूमिका दिखा सकता है। दरअसल, काजू के अर्क में एनाकार्डिक एसिड पाया जाता है। एनाकार्डिक एसिड कैंसर मेटास्टेसिस (शरीर में कैंसर फैलने प्रक्रिया) को रोकने में मदद कर सकता है । कैंसर से बचाव के लिए आप काजू का सेवन कर सकते हैं।

3. रक्तचाप में सुधार के लिए काजू खाने के फायदे

रक्तचाप को नियंत्रित करने में भी काजू की भूमिका देखी जा सकती है। एक वैज्ञानिक शोध के अनुसार, काजू से बना सप्लीमेंट सिस्टोलिक ब्लड प्रेशर (Systolic Blood Pressure) को कम सकता है। फिलहाल, इस पर अभी और शोध की आवश्यकता है ।

4. अच्छे पाचन तंत्र के लिए काजू के फायदे

काजू खाने से पाचन-तंत्र मजबूत होता है, क्योंकि इसमें फाइबर की अच्छी मात्रा पाई जाती है । फाइबर पाचन को ठीक रखकर कब्ज, पेट के कैंसर और अल्सर जैसी कई समस्याओं से छुटकारा दिलाने में मदद कर सकता है ।

5. हड्डियों के विकास के लिए काजू के फायदे

काजू में मैग्नीशियम और कैल्शियम की अच्छी मात्रा होती है । कैल्शियम और मैग्नीशियम हड्डियों के विकास के साथ ही उन्हें मजबूती प्रदान करने में मदद करते हैं। काजू में मौजूद मैग्नीशियम ऑस्टियोपोरोसिस (Osteoporosis) जैसी बीमारियों की रोकथाम में मदद करता है। इस बीमारी के कारण हड्डियां कमजोर और नाजुक हो जाती हैं ।

6. स्वस्थ दिमाग के लिए काजू खाने के फायदे

जैसा कि हम पढ़ चुके हैं कि काजू में मैग्नीशियम की अच्छी मात्रा होती है । मैग्नीशियम मस्तिष्क के रक्त प्रवाह में सहायक होता है और साथ ही मस्तिष्क की चोट को दूर करने में मैग्नीशियम का महत्वपूर्ण कार्य होता है। इसके अलावा, मैग्नीशियम में एंटीडिप्रेसेंट गुण होते हैं, जो अवसाद को दूर करने में मदद करते हैं। इस प्रकार काजू में मौजूद मैग्नीशियम दिमाग के स्वास्थ के लिए भी लाभदायक हाे सकता है ।

7. वजन के संतुलन में काजू के फायदे

काजू में पाया जाने वाला फाइबर आपके शरीर के वजन को नियंत्रित करने में सहायक हो सकता है । दरअसल, फाइबर कैलौरी के सेवन को कम करता है और पेट को देर तक भरा रखने का काम करता है। इस कारण अतिरिक्त भोजन लेने की आदत में सुधार होता है और वजन को नियंत्रित रखने में मदद मिलती है ।

8. डायबिटीज में फायदेमंद

काजू में कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं, जो रक्त में मौजूद ग्लूकोज को स्टैबलाइज करने में कारगर हो सकते हैं। रक्त में मौजूद ग्लूकोज को स्टैबलाइज करने से डायबिटीज को नियंत्रित किया जा सकता है।

9. रक्त को स्वस्थ रखता है

काजू आयरन का अच्छा स्रोत है । आयरन स्वस्थ लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करता है, जो शरीर में ऑक्सीजन को पहुंचाने में मदद करता है। आयरन रेड बल्ड सेल्स के उत्पादन को बढ़ाकर एनीमिया जैसे रक्त विकार को दूर करने का काम भी करता है ।

10. गर्भावस्था के लिए

काजू में कई पोषक तत्व पाए जाते हैं, जो गर्भावस्था में आवश्यक हो सकते हैं। जैसे इसमें पाया जाने वाला कैल्शियम और मैग्नीशियम । कैल्शियम गर्भवती महिला के स्वास्थ के साथ ही भ्रूण की हड्डियों के विकास के लिए जरूरी होता है। मैग्नीशियम जन्म के समय शिशु के वजन में कमी और गर्भवती के रक्तचाप को रोकने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है ।

11. स्वस्थ मसूड़े और दांत के लिए काजू खाने के फायदे

दांतों के लिए कैल्शियम सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व माना जाता है। कैल्शियम दांतों के विकास और उनकी मजबूती बनाए रखने का काम करता है। शरीर में इस खास तत्व की कमी दांत टूटने से लेकर कई अन्य समस्याओं का कारण बन सकती है। यहां काजू आपकी मदद कर सकता है, क्योंकि काजू में कैल्शियम की मात्रा पाई जाती है ।

12. गॉल ब्लैडर की पथरी

काजू में फाइबर की मात्रा गॉल ब्लैडर की पथरी की समस्या से छुटकारा दिलाने में कारगर हो सकती है । गॉल ब्लैडर की पथरी के लिए मोटापा और तेजी से वजन घटना जोखिम कारक हैं। फाइबर से भरपूर आहार से पित्ताशय पथरी की बीमारी को रोकने में काफी मददगार साबित हो सकता है ।

13. एंटीऑक्सीडेंट

काजू में पाए जाने वाले पोषक तत्वों में एंटीऑक्सीडेंट गुण होता है । एंटीऑक्सीडेंट स्वास्थ्य के लिए जरूरी माना जाता है, क्योंकि यह कैंसर से बचाव करता है और हृदय के साथ संपूर्ण शरीर को स्वस्थ रखने का काम करता है ।

14. स्वस्थ त्वचा के लिए काजू

काजू में प्रोटीन और विटामिन-ई जैसे एंटीऑक्सीडेंट होते हैं , जो त्वचा के स्वास्थ्य व सौंदर्य को बढ़ावा देने और त्वचा पर बढ़ती उम्र के असर को रोकने में कारगर हो सकते हैं। साथ ही ये त्वचा को झुर्रीयों और सूर्य की हानिकारक किरणों के प्रभावों से बचाते हैं )।

तीन औषधियों का ये चूर्ण 30 बीमारियां करेगा खत्म

तेजपत्ता हैं शरीर के लिए काफी लाभदायक

15. बालों के लिए काजू

काजू में मैग्नीशियम, जिंक, आयरन और फास्फोरस जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। काजू में मौजूद ये सभी पोषक तत्व बालों को पोषण तो देते ही हैं, साथ ही बालों की चमक और मजबूती में भी सहायक हाेते हैं ।

काजू का उपयोग – How to Use Cashew Nuts in Hindi

स्वाद और सेहत में भरपूर काजू का उपयोग आप कई प्रकार से कर सकते हैं, जैसे :

  • आप काजू को जब मन करे सीधे खा सकते हैं।
  • काजू कतली जैसी मिठाइयों में इसका उपयोग होता है।
  • काजू को बादाम के साथ भून कर, इसमें थोड़ा-सा नमक मिलाकर स्नैक्स के रूप में खा सकते हैं।
  • काजू को खीर और हलवे में टॉपिंग के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसका उपयोग कुछ खास तरह की सब्जियां बनाते समय भी किया जा सकता है।

काजू की मात्रा – माना जाता है कि दिनभर में 6-7 काजू खाए जा सकते हैं। फिर भी इसकी दैनिक मात्रा जानने के लिए एक बार आहार विशेषज्ञ से जरूर बात करें।

काजू किन लोगों को नहीं खाने चाहिए

जरूरी नहीं कि काजू हर किसी की सेहत पर अच्छा असर करे। कुछ लोगों के लिए यह हानिकारक भी साबित हो सकता है।

  • कुछ लोगों को काजू के सेवन से एलर्जी हो सकती है, ऐसे में इससे दूरी बनाना ही उनके लिए ठीक रहेगा।
  • काजू में फाइबर की अच्छी मात्रा होती है । फाइबर पेट को साफ करने का काम करता है। इसलिए, जिन्हें दस्त की समस्या हो, उन्हें काजू नहीं खाने चाहिए।

जहां एक ओर काजू स्वाद और सेहत के लिए फायदेमंद माना जाता है, वहीं इसके कुछ नुकसान भी हैं। जानते हैं इसके नुकसान के बारे में।

काजू के नुकसान – Side Effects of Cashew Nuts in Hindi

किसी भी वस्तु का उपयोग एक सीमित मात्रा में करना चाहिए, तभी उसका फायदा हो सकता है। ठीक ऐसे ही हमें जानना चाहिए कि काजू कैसे खाया जाए। काजू का सीमित मात्रा में किया गया उपयोग ही फायदेमंद है। अधिक मात्रा में किया गया इसका उपयोग नकारात्मक परिणाम दे सकता है। आइए जानते हैं काजू के नुकसान को।

  • जैसा कि आप जानते हैं कि काजू में सोडियम की मात्रा पाई जाती है । अगर आप जरूरत से ज्यादा काजू खाते हैं, तो शरीर में सोडियम की मात्रा बढ़ सकती है, जिससे उच्च रक्तचाप, स्ट्रोक और ह्रदय से संबंधित बीमारियां हो सकती हैं। साथ ही किडनी पर भी प्रभाव पड़ सकता है।
  • काजू में उच्च मात्रा में कैलोरी होती है । वैसे ताे कैलोरी आपके स्वास्थ के लिए ठीक है, लेकिन अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से आपका वजन बढ़ सकता है ।
  • काजू में फाइबर पाया जाता है । फाइबर स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होता है, लेकिन काजू के रूप में बहुत ज्यादा फाइबर का सेवन पेट में सूजन और गैस का कारण बन सकता है ।
  • काजू पोटैशियम से समृद्ध होता है । अधिक काजू के सेवन से ज्यादा पोटैशियम हमारे शरीर में पहुंच सकता है, जिस कारण दिल का धड़कना अचानक बंद हो जाना, कमजोरी और किडनी में खराबी जैसी अवस्था हो सकती है ।

इस लेख के माध्यम से आप जान ही गए होंगे कि काजू स्वादिष्ट होने के साथ-साथ सेहत के लिए भी फायदेमंद है। साथ ही आप यह भी जान गए होंगे कि आप काजू का उपयोग किस प्रकार से कर सकते हैं। अगर आप सोच रहे हैं कि काजू खाने का सही टाइम क्या हो सकता है, तो आपको बता दें कि जब आपका मन करे, तभी काजू खाने का सही टाइम है। काजू के गुणों को जानने के बाद आप अपने दैनिक आहार में इसे जरूर जगह दें। अगर आपने मन में काजू से जुड़ा कोई सवाल है, तो नीचे कमेंट बॉक्स के जरिए हम तक जरूर पहुंचाएं।

Please Like and Share Our Facebook Page
Herbal Medicines

Find US On Instagram
Herbal Medicines

Find US On Twitter
Herbal Medicines

Leave a Reply