All Ayurvedic

तुलसी के पत्तों के गजब के फायदे आप जानकार दंग रह जाएंगे

तुलसी के पत्तों के गजब के फायदे आप जानकार दंग रह जाएंगे

Spread the love
तुलसी के पत्तों

तुलसी के पत्तों से होने वाले फायदे – भारत के अधिकांश घरों में तुलसी के पौधे (Tulsi Plant) की पूजा की जाती है। हमारे ऋषियों को लाखों वर्ष पूर्व तुलसी के औषधीय गुणों का ज्ञान था इसलिए इसको दैनिक जीवन में प्रयोग हेतु इतनी प्रमुखत से स्थान दिया गया है। आयुर्वेद में भी तुलसी के फायदों का विस्तृत उल्लेख मिलता है। इस लेख में हम आपको तुलसी के फायदे, औषधीय गुणों और उपयोग के बारे में विस्तार से बता रहे हैं।

तुलसी के फायदे एवं उपयोग (Tulsi Benefits and Uses in Hindi)

औषधीय उपयोग की दृष्टि से तुलसी की पत्तियां ज्यादा गुणकारी मानी जाती हैं। इनको आप सीधे पौधे से लेकर खा सकते हैं। तुलसी के पत्तों की तरह तुलसी के बीज के फायदे भी अनगिनत होते हैं। आप तुलसी के बीज के और पत्तियों का चूर्ण भी प्रयोग कर सकते हैं। इन पत्तियों में कफ वात दोष को कम करने, पाचन शक्ति एवं भूख बढ़ाने और रक्त को शुद्ध करने वाले गुण होते हैं।

इसके अलावा तुलसी के पत्ते के फायदे बुखार, दिल से जुड़ी बीमारियां, पेट दर्द, मलेरिया और बैक्टीरियल संक्रमण आदि में बहुत फायदेमंद हैं। तुलसी के औषधीय गुणों (Medicinal Properties of Tulsi) में राम तुलसी की तुलना में श्याम तुलसी को प्रमुख माना गया है। आइये तुलसी के फायदों के बारे में विस्तार से जानते हैं।

1- रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए

तुलसी के पत्तों में जीवनशैली से जुड़ी कई बीमारियों का कारगर इलाज छुपा हुआ है. आयुर्वेद में कहा गया है कि प्रतिदिन तुलसी की कुछ पत्तियों को चबाकर खाने से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है.

2- दिमागी ताकत को बढ़ाती है तुलसी

अगर आप अपने मस्तिष्क की शक्ति को बढ़ाना चाहते हैं तो फिर आपको हर रोज तुलसी के 5 पत्तों का सेवन पानी के साथ करना चाहिए. इससे बुद्धि तेज होती है और दिमागी ताकत बढ़ती है. आप शायद यें पसंद करें

3- पुराना सिरदर्द हो जाता है गायब

बताया जाता है कि तुलसी के तेल की एक से दो बूंदे नाक में टपकाने से पुराना सिरदर्द भी गायब हो जाता है और इसके साथ ही सिर से संबंधित दूसरे रोग भी दूर होते हैं.

4– निखरती है चेहरे की रंगत

आयुर्वेद के अनुसार तुलसी के तेल को नियमित रुप से चेहरे पर लगाने से चेहरे की रंगत साफ होती है और चेहरे में गज़ब का निखार आता है.

5– कान के सूजन को करे दूर

अगर आपके कान के पीछे सूजन आ गई है तो फिर तुलसी के पत्ते आपको इससे निजात दिला सकते हैं. इसके लिए तुलसी के कुछ पत्ते और अंरडी के कोपलों के साथ चुटकी भर नमक मिलाकर इसे पीस लें, फिर इस लेप को हल्का गुनगुना करके कान के पीछे लगा लें इससे सूजन दूर हो जाएगी.

6– दांत के दर्द को करे गायब

जब भी आपके दांतों में दर्द की शिकायत हो तो उसे दूर करने के लिए काली मिर्च और तुलसी के पत्तों की गोली बनाकर दांतों के नीचे रख लें. ऐसा करने से कुछ ही देर में आपके दांतों का दर्द गायब हो जाएगा.

7– गले की तकलीफ से राहत

अगर आपके गले में किसी भी तरह की परेशानी हो रही है तो तुलसी के पत्तों के रस को गुनगुने पानी में मिलाकर कुल्ला करना चाहिए. इससे गले के रोगों से काफी हद तक राहत मिलती है.

8- पूरे मुंह को रखता है स्वस्थ

तुलसी के पत्ते दांतों के साथ-साथ पूरे मुंह को स्वस्थ रखने में काफी मदद करते हैं. अगर आप नियमित रुप से तुलसी के रस को पानी में हल्दी और सेंधा नमक के साथ मिलाकर कुल्ला करते हैं. इससे आपके दांत, मुंह और गले के विकार दूर होते हैं.

9– खांसी और अस्थमा में फायदेमंद

तुलसी के पत्तों का रस, सोंठ, प्याज का रस और शहद को मिलाकर उसका मिश्रण तैयार कर लें. इस मिश्रण को चाटने से सूखी खांसी और अस्थमा से काफी हद तक राहत मिलती है.

10– सर्दी- जुक़ाम हो जाता है ठीक

छोटे बच्चों को बार-बार सर्दी-जुक़ाम की समस्या हो जाती है ऐसे में तुलसी के पत्तों का रस और अदरक के रस की कुछ बूंदों को शहद के साथ मिलाकर बच्चों को देना चाहिए. इससे बच्चों का सर्दी- जुक़ाम और कफ़ ठीक हो जाता है.

11- सिर के जूँ और लीख से छुटकारा (Tulsi Helps to Remove Head Lice in Hindi)

अगर आपके सिर में जुएं पड़ गये हैं और कई दिनों से यह समस्या ठीक नहीं हो रही है तो बालों में तुलसी का तेल लगाएं। तुलसी के पौधे से तुलसी की पत्तियां लेकर उससे तेल बनाकर बालों में लगाने से उनमें मौजूद जूं और लीखें मर जाती हैं। तुलसी के पत्ते के फायदे, तुलसी का तेल बनाने में प्रयोग किया जाता है।

12- रतौंधी में लाभकारी है तुलसी का रस

कई लोगों को रात के समय ठीक से दिखाई नहीं पड़ता है, इस समस्या को रतौंधी कहा जाता है। अगर आप रतौंधी से पीड़ित हैं तो तुलसी की पत्तियां (Basil leaves in hindi) आपके लिए काफी फायदेमंद है। इसके लिए दो से तीन बूँद तुलसी-पत्र-स्वरस को दिन में 2-3 बार आंखों में डालें।

13- साइनसाइटिस या पीनसरोग में लाभदायक (Tulsi Benefits for Sinusitis in Hindi)

अगर आप साइनसाइटिस के मरीज हैं तो तुलसी की पत्तियां या मंजरी को मसलकर सूघें। इन पत्तियों को मसलकर सूंघने से साइनसाइटिस रोग से जल्दी आराम मिलता है।

14- गले से जुड़ी समस्याओं में फायदेमंद

सर्दी-जुकाम होने पर या मौसम में बदलाव होने पर अक्सर गले में खराश या गला बैठ जाने जैसी समस्याएं होने लगती हैं। तुलसी (Tulsi plant) की पत्तियां गले से जुड़े विकारों को दूर करने में बहुत ही लाभप्रद हैं। गले की समस्याओं से आराम पाने के लिए तुलसी के रस (Tulsi juice) को हल्के गुनगुने पानी में मिलाकर उससे कुल्ला करें। इसके अलावा तुलसी रस-युक्त जल में हल्दी और सेंधानमक मिलाकर कुल्ला करने से भी मुख, दांत तथा गले के सब विकार दूर होते हैं।

सूखी खांसी और दमा से आराम

तुलसी की पत्तियां अस्थमा के मरीजों और सूखी खांसी से पीड़ित लोगों के लिए भी बहुत गुणकारी हैं। इसके लिए तुलसी की मंजरी, सोंठ, प्याज का रस और शहद को मिला लें और इस मिश्रण को चाटकर खाएं, इसके सेवन से सूखी खांसी और दमे में लाभ होता है।

Please Like and Share Our Facebook Page
Herbal Medicines

Find US On Instagram
Herbal Medicines

Find US On Twitter
Herbal Medicines

पुरुषों के लिए वरदान है इलायची वाला दूध

बुढ़ापे तक रहना है जवान तो मेथीदाना खाना शुरू कर दीजिये

खाली पेट गर्म पानी के साथ काली मिर्च खाने से होगा ऐसा असर

कमर दर्द (Back Pain) का कारण और राहत के लिए घरेलू उपाय

तेजपत्ता हैं शरीर के लिए काफी लाभदायक

Leave a Reply