You are currently viewing वैक्सिंग के बाद दानों को दूर करने के घरेलू उपाय !!

वैक्सिंग के बाद दानों को दूर करने के घरेलू उपाय !!

Spread the love

1. नारियल तेल वैक्सिंग के बाद अचानक से होने वाले दानों और जलन से राहत पाने का कारगार घरेलू उपाय है। यह सूजन को दूर करते हुए त्वचा पर आए लालपन को भी दूर करता है। इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण त्वचा को मॉइस्चराइज करने के साथ इसे ठीक करने में भी मदद करते हैं।वैक्सिंग के बाद दाने, जलन और सूजन को कम करने के लिए नारियल तेल का इस्तेमाल करना बहुत अच्छा माना जाता है। इसके लिए सबसे पहले वैक्सिंग कराने के बाद त्वचा को पानी से साफ करें और अच्छे से सुखा लें। अब सूखी त्वचा पर नारियल तेल लगाएं। अब आप चाहें तो इसे कितनी भी देर तक लगा छोड़ सकते हैं। हर रोज नहाने से पहले त्वचा पर नारियल तेल लगाने से वैक्सिंग के बाद होने वाले दाने और सूजन में बहुत कमी आएगी।

2. वैक्सिंग कराने के बाद त्वचा पर आने वाले दानों का इलाज आप घर में ही कर सकते हैं। एलोवेरा इसके लिए अच्छा घरेलू उपाय है। इस उपाय का उपयोग छाती, पैरों,  हाथों के अलावा बिकनी वैक्स कराने के बाद भी किया जा सकता है। एलोवेरा सूजन और जलन को भी दूर करने में मदद करता है।वैक्सिंग के बाद त्वचा पर आने वाले दानों और जलन को कम करने के लिए एलोवेरा की पत्ती में से जेल निकालें और एक एयरटाइट कंटेनर में भरकर रख लें। इस जेल को वैक्सिंग के बाद त्वचा पर लगाएं और इससे मालिश करें। इसे रातभर लगा रहने दें और सुबह उठकर धो लें। कंटेनर में बचे बाकी के जेल को ठंडी जगह पर स्टोर करके रखें। हर रात सोने से पहले इस प्रक्रिया को अपनाएं। सूजन और जलन कुछ ही दिनों में गायब हो जाएगी।

3. घर का बना शुगर यानि चीनी स्क्रब वैक्सिंग के बाद होने वाली जलन और दानों को नियंत्रित करता है। नीचे दिए गए तरीके से आप इसे घर पर बनाने के साथ उपयोग में ला सकते हैं। इसे घर में बनाने के लिए आधा कप नारियल तेल या जैतून के तेल के साथ आधा कप चीनी मिलाएं। प्रभावित क्षेत्र पर इस मिश्रण को लगाएं और धीरे से परिपत्र गति में स्क्रब करें। हर दिन इसे करने से त्वचा कठोर हो सकती है, इसलिए दूसरे दिन इस प्रक्रिया को करें।

4. दलिया यानि ओटमील आमतौर पर दानों और सूजन को कम करने के लिए जाना जाता है। इसका अगर पैक बनाकर लगाया जाए, तो वैक्सिंग के बाद त्वचा पर होने वाली सूजन और दानों के लिए बहुत फायदेमंद होगा। ओटमील का फेस पैक बनाने के लिए ओटमील पाउडर को एक चम्मच शहद के साथ मिलाएं। अब इस पैक को चेहरे पर लगाएं और थोड़ी देर बाद सूखने पर इसे धो लें। बता दें कि प्राकृतिक घर का बना फेस पैक सूजन को काफी कम कर देगा।

5. शुद्ध शहद न केवल अपने एंटीबैक्टीरियल गुणों के कारण त्वचा को बैक्टीरिया फ्री करता है, बल्कि घाव भरने की प्रक्रिया को भी तेज करता है। इसका फेस पैक बनाकर आप वैक्सिंग के बाद त्वचा पर होने वाले दानों, सूजन और खुजली की समस्या से काफी हद तक राहत पा सकते हैं।इसके लिए आपको शहद की एक लेयर प्रभावित हिस्से पर लगानी होगी। 15 मिनट तक इसे लगाए रखें। 15 मिनट से ज्यादा इे न लगाएं, वरना इससे आपको जलन और खुजली महसूस हो सकती है। अब त्वचा को पानी से धो लें और फिर सूखी टॉवेल से त्वचा को पोंछ लें।

6. वैक्सिंग के बाद अगर त्वचा पर दाने हो गए हैं, तो प्रभावित हिस्से पर बर्फ के टुकड़ों को थोड़े-थोड़े समय में रगड़ें। तब तक रगड़ें जब तक दाने हल्के न हो जाएं। जल्दी राहत पाने के लिए आप बर्फ के टुकड़े के साथ खीरा और एलोवेरा के रस का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। खीरा और एलोवेरा के रस को ट्रे में पानी के साथ फ्रीजर में रख दें। वैक्सिंग के बाद इस क्यूब्स को अपनी त्वचा पर लगाएं। इससे आपको नरम और चिकनी त्वचा मिलेगी।

7. वैक्सिंग के दानों और सूजन को दूर करने के लिए ग्रीन टी फेस पैक सबसे अच्छा प्राकृतिक नुस्खा है। दरअसल, ग्रीन टी एक इंफ्लेमेट्री एजेंट है और यह सूजन वाली त्वचा को शांत करने में मदद करता है। इसलिए जब भी वैक्सिंग के बाद आपको दाने, सूजन और खुजली का अहसास हो, तो तुरंत घर में रखे ग्रीन टी बैग्स का उपयोग करें। वैक्सिंग के बाद सूजन और दानों को दूर करने के लिए 3 ग्रीन टी बैग्स को गर्म पानी में मिलाएं और 10 मिनट के लिए छोड़ दें। जब ये ठंडा हो जाए, तो इसे एक बोतल में भरे और वैक्सिंग के दानों से तत्काल राहत पाने के लिए इसे प्रभावित हिस्से या चेहरे पर रगड़ लें।

8. सेब का सिरका खासतौर से चेहरे और बिकनी एरिया की वैक्सिगं के बाद दानों पर उपयोग किया जाने वाला बेहतरीन उपाय है। इसमें मौजूद एस्ट्रिंजेंट और एंटीसेप्टिक गुण वैक्सिंग के बाद दानों से निजात दिलाने में मददगार हैं। इतना ही नहीं सेब का सिरका त्वचा का पीएच स्तर संतुलित कर सूजन से राहत दिलाता है। ऐसे में वैक्सिंग से होने वाली जलन और दानों से राहत पाने के लिए आप एप्‍पल साइडर विनेगर का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। वैक्सिंग के बाद चेहरे और बिकनी एरिया पर आने वाले दानों को कम करने के लिए आप सेब का सिरके का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आपको एक कटोरी में पानी में उसी मात्रा में सेब का सिरका मिलाना होगा। अब एक कॉटन बॉल से इस मिश्रण में डुबोएं और फिर प्रभावित हिस्से पर लगाएं। दस मिनट के लिए इसे लगाकर रखें और फिर पानी से धो लें। अगर वैक्सिंग के बाद आपको दाने ज्यादा हो गए हैं और जलन भी हो रही है, तो दिन में दो बार इस प्रक्रिया को दोहरा सकते हैं।

9. वैक्सिंग के बाद दानों, जलन और खुजली से बचने का सबसे अच्छा घरेलू नुस्खा है टी ट्री ऑयल। यह अपने एंटीबैक्टीरियल, एंटीफंगल और एंटीवायरल गुणों के कारण संक्रमण को रोकता है, जिससे दाने नहीं होते और सूजन होने की संभावना भी कम हो जाती है। वैक्सिंग के बाद दानों और इसमें होने वाली जलन से बचने के लिए टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल आसानी से किया जा सकता है। इसके लिए एक चम्मच ऑलिव ऑयल में दो से तीन बूंद टी ट्री ऑयल की मिलाएं। अब त्वचा के जिस हिस्से में आपको वैक्सिंग के बाद दाने हो गए हैं, वहां इस मिश्रण को लगाएं और एक से दो मिनट तक मसाज करें, ताकि आपकी त्वचा इसे अवशोषित कर ले। ये प्रक्रिया आपको रात में सोने से पहले करनी है। सुबह उठकर आप इसे धो सकते हैं। हर रोज अगर सोने से पहले ये तरीका अपनाएंगे, जो जल्दी ही जलन और दानों की समस्या से राहत मिलेगी।

Leave a Reply